Asianet News HindiAsianet News Hindi

क्यों मनाया जाता है World Suicide prevention day, जानें कैसे हुई शुरुआत और क्या है थीम

हर साल 10 सितंबर को दुनियाभर में विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस (World Suicide prevention day) मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मकसद दुनियाभर में बढ़ती आत्महत्याओं को रोकना और इसके बारे में जागरुकता पैदा करना है। 

Why World Suicide Prevention Day is celebrated, know how it started and what is the theme kpg
Author
First Published Sep 9, 2022, 7:26 PM IST

World Suicide prevention day 2022: हर साल 10 सितंबर को दुनियाभर में विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस (World Suicide prevention day) मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मकसद दुनियाभर में बढ़ती आत्महत्याओं को रोकना और इसके बारे में जागरुकता पैदा करना है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक, हर साल लगभग 8 लाख लोग आत्महत्या कर लेते हैं। खुदकुशी के ज्यादातर केस 15 से 30 साल की उम्र वाले लोगों के होते हैं। 

कब से हुई शुरुआत?
विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस (World Suicide prevention day) मनाने की शुरुआत 2003 में इंटरनेशनल एसोसिएशन फॉर सुसाइड प्रिवेंशन (IASP) ने की थी। इस दिन को वर्ल्ड फेडरेशन फॉर मेंटल हेल्थ एंड वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन द्वारा प्रायोजित किया जाता है। विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस के पहले सफल आयोजन के बाद साल 2004 में डब्ल्यूएचओ इसे औपचारिक रूप से हर साल को-स्पॉन्सर करने लगा। यही वजह है कि इसके बाद इसे हर साल मनाया जाने लगा। 

विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस मनाने का मकसद : 
विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस मनाने का उद्देश्य आत्महत्या, खासकर युवाओं में इसे लेकर बढ़ते मामलों को रोकना और इसके प्रति ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरुक करना है। इस दिन को मनाने का मकसद खुदकुशी करने वाले शख्स के व्यवहार में आने वाले बदलाव से संबंधित आंकड़े जुटाना, रिसर्च करना और जागरुकता फैलाना है। 

क्या है इस बार की थीम?
2022 के लिए विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस की थीम Creating hope through action है। इसका मतलब लोगों में अपने काम के जरिए उम्मीद पैदा करना है। 10 सितंबर को विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस पर आयोजित होने वाले सभी कार्यक्रम इसी थीम पर बेस्ड होंगे। इस थीम के जरिए विश्व स्वास्थ्य संगठन दुनियाभर में ये संदेश देना चाहता है कि खुदकुशी करने की सोच रखने वाले लोगों को किसी भी हालात में जीने की उम्मीद नहीं छोड़नी है। 

ये भी देखें : 

आत्महत्या करने वालों में पहले ही दिख जाता है ये 5 लक्षण, वक्त रहते पहचाने और अपनों को बचाएं

World Suicide Prevention Day: इन 4 वजहों से न डरें, तो नहीं करेंगे सुसाइड, दुनिया में हर 40 सेकंड में एक मौत

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios