Asianet News Hindi

Lockdown: अप्रैल महीने में कार कंपनियों का सेल्स जीरो, ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री के लिए बढ़ा संकट

कोरोना वायरस के चलते देश के ऑटोमोबाइल सेक्टर में इतिहास में पहली बार ऐसा होगा की अप्रैल में कोई बिक्री नहीं होगी। कुछ ऑटोमोबाइल कंपनियों के हेड ने ET को बताया कि उन्हें मई में भी स्थिति में अधिक सुधार की उम्मीद नहीं है। उनका कहना था कि इंडस्ट्री के लिए संकट लंबे समय तक रह सकता है

Amid lockdown due to Coronavirus Indian automobile industry records zero sales first time in history kpm
Author
New Delhi, First Published Apr 27, 2020, 2:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ऑटो डेस्क: कोरोना वायरस के चलते देश के ऑटोमोबाइल सेक्टर में इतिहास में पहली बार ऐसा होगा की अप्रैल में कोई बिक्री नहीं होगी। कुछ ऑटोमोबाइल कंपनियों के हेड ने ET को बताया कि उन्हें मई में भी स्थिति में अधिक सुधार की उम्मीद नहीं है। उनका कहना था कि इंडस्ट्री के लिए संकट लंबे समय तक रह सकता है।

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री के दिग्गजों ने संकट से निकलने के लिए बिजनस में बड़े बदलाव करने की जरूरत बताई है। उन्होंने कहा है कि प्लांट बंद करना आसान है, लेकिन सप्लायर्स, वेंडर्स, डीलर्स और फाइनैंसर्स के ईकोसिस्टम के बिना कामकाज दोबारा शुरू करना एक बड़ी मुश्किल है। 

मई के मध्य तक शुरू हो सकता है प्रॉडक्शन

ऑटोमोबाइल कंपनियों ने अपनी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स दोबारा शुरू करने के लिए अभी तक आवेदन नहीं किया है और वे स्थिति स्पष्ट करने के लिए मई तक इंतजार कर रही हैं। मई के मध्य तक ये कंपनियां कुछ प्रॉडक्शन शुरू कर सकती हैं।

GDP में ऑटो सेक्टर का 8% हिस्सा

भारत में ऑटोमोबाइल सेक्टर का जीडीपी में 8 पर्सेंट से अधिक योगदान है. इस सेक्टर से सरकार को कुल टैक्स कलेक्शन का 15 पर्सेंट हिस्सा मिलता है। ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री में चार करोड़ से अधिक लोगों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तरीके से रोजगार मिला है।

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios