Asianet News HindiAsianet News Hindi

कोरोना की मार के बीच हुंदै को उम्मीद, खुद के वाहन को तरजीह दे रहे लोग, बढ़ेगी बिक्री

कोरोना वायरस महामारी के बीच दक्षिण कोरिया की वाहन कंपनी हुंदै को उम्मीद की किरण दिख रही है कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि वाहन बाजार में सुस्ती के बीच इस महामारी की वजह से लोग परिवहन के लिये खुद के वाहन को तरजीह देना चाहेंगे

Hyundai aspire that increase in case of corona virus will increase the sales of car kpm
Author
New Delhi, First Published Mar 15, 2020, 8:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी के बीच दक्षिण कोरिया की वाहन कंपनी हुंदै को उम्मीद की किरण दिख रही है। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि वाहन बाजार में सुस्ती के बीच इस महामारी की वजह से लोग परिवहन के लिये खुद के वाहन को तरजीह देना चाहेंगे। ऐसे में वाहन बाजार के लिए उम्मीद बढ़ी है।

कंपनी अपने वाहनों की आनलाइन बिक्री बढ़ाने की भी तैयारी कर रही है। कंपनी की पूर्ण स्वामित्व वाली इकाई हुंदै मोटर इंडिया लि. (एचएमआईएल) की राष्ट्रीय स्तर पर ‘क्लिक टू बाय’ कार्यक्रम शुरू करने की है। पिछले महीने आटो एक्सपो के दौरान इसे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में पायलट आधार पर शुरू किया गया था।

भीड़भाड़ वाली डीलरशिप पर जाने की जरूरत नहीं 

इस कार्यक्रम के जरिये उपभोक्ताओं को वाहन खरीदने के लिए भीड़भाड़ वाली डीलरशिप पर जाने की जरूरत नहीं होगी। कोरोना वायरस से बचाव के लिए कंपनी ने कई आंतरिक उपाय किए हैं। इसमे चेन्नई कारखाने और कार्यालय के कर्मचारियों और वहां आने वाले आगंतुकों का रोजाना ‘टेम्परेचर’ लेना, विदेश यात्रा पर रोक लगाना शामिल है। इसके अलावा कंपनी ने सिर्फ महत्वपूर्ण कारोबारी कामकाज के लिए घरेलू यात्रा की अनुमति दी है।

कंपनी के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी एस एस किम ने कहा, ‘‘कोरोना वायरस के फैलने से यात्रा, पर्यटन और अन्य विनिर्माण क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। अर्थव्यवस्था में सुस्ती की वजह से ग्राहकों की धारणा पहले से कमजोर है।’’

ग्राहकों से पांच मीटर की दूरी से बात करें

उन्होंने कहा कि इसी के साथ वाहन विनिर्माताओं की दृष्टि से कुछ सकारात्मकता भी है। किम ने पीटीआई -भाषा से कहा, ‘‘आज हर कोई सुरक्षित स्थान चाहता है, समाज से दूरी चाहता है। घर पहला सुरक्षित स्थान है और कार संभवत: दूसरा सबसे अधिक सुरक्षित स्थान है।’’

किम ने कहा, ‘‘हमने अपने सहयोगियों से सुना है कि जो लोग हाल तक कार नहीं खरीदना चाहते थे, उनका मन बदल रहा है। वे लोग सड़क पर अपने अलग वाहन में रहना चाहते हैं।’’

यह पूछे जाने पर कि कंपनी उन ग्राहकों की चिंता कैसे दूर करेगी जो भीड़भाड़ वाले शोरूम में नहीं आना चाहते, किम ने कहा कि हमने पहले ही अपने डीलरों को साफ सफाई को लेकर परामर्श जारी कर दिया है। उनसे कहा गया है कि वे ग्राहकों से कम से कम पांच मीटर की दूरी से बात करें, जिससे वे सुरक्षित महसूस कर सकें।

डिजिटल बिक्री चैनल को बढ़ावा

उन्होंने कहा कि इसके साथ हुंदै अपने डिजिटल बिक्री चैनल ‘क्लिक टू बाय’ को बढ़ा रही है। इसके जरिये कार खरीदने की समूची प्रक्रिया पूरी की जा सकेगी। इसमें शोध से लेकर टेस्ट ड्राइव, फाइनेंस, बीमा और डिलिवरी सभी शामिल हैं।

यह पूछे जाने पर कि यह कब तक तैयार होगा, किम ने कहा कि दिल्ली क्षेत्र में इसका पायलट परीक्षण हो चुका है। अगले कुछ सप्ताह में यह राष्ट्रीय स्तर पर उपलब्ध होगा।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios