Asianet News Hindi

गाड़ियों के यूनिफाइड RC बनाने वाला देश का पहला राज्य बना MP, पूरे देश में एक रंग का होगा कार्ड


इसके अलावा, मध्यप्रदेश सरकार ने मंगलवार को यूनिफाईड ड्रायविंग लाइसेंस भी जारी किया। इसके पहले उत्तर प्रदेश ने सिर्फ यूनिफाईड ड्राइविंग लाइसेंस जारी किया है, लेकिन वाहनों का यूनिफाईड पंजीयन कार्ड अब तक नहीं बनाया है। 

MP becomes the first state in the country to create Unified RC kpm
Author
Bhopal, First Published Feb 25, 2020, 8:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल. मध्यप्रदेश सरकार ने दावा किया है कि मंगलवार को मध्यप्रदेश देश में वाहनों का यूनिफाइड पंजीयन कार्ड बनाने वाला पहला राज्य बन गया है।

पुरे देश में यह कार्ड एक रंग का होगा

इसके अलावा, मध्यप्रदेश सरकार ने मंगलवार को यूनिफाईड ड्रायविंग लाइसेंस भी जारी किया। इसके पहले उत्तर प्रदेश ने सिर्फ यूनिफाईड ड्राइविंग लाइसेंस जारी किया है, लेकिन वाहनों का यूनिफाईड पंजीयन कार्ड अब तक नहीं बनाया है। मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यहां मंत्रालय में यूनिफाईड ड्राइविंग लाइसेंस एवं पंजीयन कार्ड दोनों का आज लोकार्पण किया। इसी के साथ मध्यप्रदेश वाहनों का यूनिफाईड पंजीयन कार्ड बनाने में देश का पहला राज्य बन गया है और ड्राइविंग लाइसेंस में दूसरा राज्य बना है।’’ इस उपलब्धि के लिए कमलनाथ ने मध्यप्रदेश परिवहन विभाग को बधाई दी और इस मौके पर यूनिफाईड कार्ड के प्रथम छह उपभोक्ताओं को टोकन के रूप में ये दोनों कार्ड वितरित किए।

मध्यप्रदेश के परिवहन आयुक्त मधु कुमार ने  बताया कि यूनिफाईड ड्राइविंग लाइसेंस एवं वाहनों के यूनिफाईड पंजीयन कार्ड में नई जानकारियां संकलित की गई हैं। पूरे देश में यह कार्ड एक समान और एक रंग का है। पहाड़ी और खतरनाक क्षेत्रों में ड्राइविंग करने की क्षमता का भी इसमें उल्लेख होगा।

कार्ड में इमरजेंसी नंबर भी होगा

उन्होंने कहा कि विशिष्ट सीरियल नंबर होने के साथ ही इसमें आकस्मिक इमरजेंसी नंबर होगा। साथ ही बैज नंबर भी अंकित होगा। नए कार्ड के दोनों तरफ जानकारी अंकित होने के साथ ही ऑर्गन डोनर, क्यूआर कोड और अमान्य वाहन पंजीयन नंबर की भी जानकारी होगी।

कुमार ने बताया, ‘‘मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है, जिसने यूनिफाईड ड्राइविंग लाइसेंस एवं पंजीयन कार्ड एक साथ लोकार्पित किया है।’’

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।) 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios