Asianet News Hindi

बिहार चुनाव: पहले चरण की 71 सीटों पर आज डाले जाएंगे वोट, दांव पर होगी 8 मंत्रियों की प्रतिष्ठा

बिहार चुनाव का रण आज से शुरू हो जाएगा। पहले चरण में 71 सीटों पर आज वोट डाले जाएंगे। राजग और महागठबंधन के बीच कांटे की टक्कर है। पहले चरण में नीतीश सरकार के 8 मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर है।

Bihar elections votes will be cast in 71 seats of first phase 8 ministers will be at stake kpl
Author
Patna, First Published Oct 28, 2020, 4:24 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना. बिहार चुनाव का रण आज से शुरू हो जाएगा। पहले चरण में 71 सीटों पर आज वोट डाले जाएंगे। राजग और महागठबंधन के बीच कांटे की टक्कर है। पहले चरण में नीतीश सरकार के 8 मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर है। बिहार चुनाव में तेजी से बदले माहौल के बीच नीतीश सरकार के 8 मंत्री भी चुनाव मैदान में हैं. राजग व अन्य विपक्षी दल उनकी घेराबंदी करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। पहले चरण के चुनाव में 1 करोड़ 12 लाख 76 हजार 396 पुरुष, 1 करोड़, 1 लाख, 29 हजार 101 महिला, एवं 599 थर्ड जेंडर के मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

इस चरण में गया से कृषि मंत्री डॉक्टर प्रेम कुमार, जहानाबाद से शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, जमालपुर से ग्रामीण विकास कार्य मंत्री शैलेश कुमार कि किस्मत दांव पर लगी हुई है। वहीं दीनारा से विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री जय कुमार सिंह, राजपुर (सु) से परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला, बांका से राजस्व मंत्री रामनारायण मंडल, लखीसराय से श्रम मंत्री विजय कुमार सिन्हा, चयनपुर से अनुसूचित जाति व जनजाती कल्याण मंत्री बृजकिशोर बिंद मैदान में है। इन मंत्रियों के अलावा इमामगंज से पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी मैदान में हैं।

राजग की ओर ज्यादा दिख रहा पिछड़ों व दलितों का रुझान 
महागठबंधन के नेता तेजस्वी यादव की सभाओं में मुस्लिम-यादव समीकरण से जुड़ी भीड़ के अलावा दूसरे राज्यों से लौटे मजदूर-कामगार दिख रहे हैं। पिछड़े-दलित वर्ग के लोगों का रुझान राजग की ओर ज्यादा है जिन्हें केंद्र और राज्य सरकार से मदद के तौर पर मुफ्त अनाज और नकद राशि मिली हैं। महिला मतदाताओं के बीच नीतीश का असर भी दिख रहा है। इस चरण में जहां मतदान है, वहां पिछले चुनाव में राजद के 25 उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की थी। जदयू के 21 उम्मीदवार जीते थे।  

10 लाख नौकरी देने का वादा 
चुनाव में रोजगार बड़ा मुद्दा बन चुका है। महागठबंधन ने इस मुद्दे को सेट कर दिया है और अब इस मुद्दे से इतर बात करने की कोशिशों को जनता सफल नहीं होने दे रही है। राजद नेता तेजस्वी यादव ने सरकार बनने के बाद दस लाख लोगों को नौकरी देने का वादा किया है, जिसके जवाब में भाजपा ने 19 लाख रोजगार के अवसर का वादा किया।

मुफ्त कोरोना वैक्सीन का वादा
भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में वादा किया है कि सरकार बनी तो यहां के लोगों को मुफ्त कोरोना का टीका लगाया जाएगा। महागठबंधन ने इस वादे को निशाने पर लिया है। उधर, रोहतास में तेजस्वी ने बाबू साहेब विरोधी बयान देकर पिछड़ों को गोलबंद करने का प्रयास कर विवाद पैदा कर दिया है।

मोदी-राहुल की आज रैलियां भी
प्रथम चरण के चुनाव के लिए आज जब मतदान हो रहा है, तभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दरभंगा, मुजफ्फरपुर और पटना में तो राहुल गांधी मिथलांचल के कुशेश्वरस्थान और वाल्मीकि नगर में जनसभाओं को संबोधित करने वाले हैं। जाहिर है, इन जनसभाओं से दूसरे चरण के मतदान के लिए जहां प्रचार आक्रामक होगा, वहीं पहले चरण में मतदान कर रहे मतदाताओं को इनकी रैलियों का इंतजार है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios