कटिहार/पटना। बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे फेज के कैम्पेन का शोर आज शाम खत्म हो जाएगा। तीसरे फेज की वोटिंग 7 नवंबर को है। सभी 243 सीटों के नतीजे 10 नवंबर को आएंगे। उससे पहले 78 सीटों पर प्रचार के लिए पार्टियों ने पूरी ताकत लगा दी है। आज बीजेपी के दिग्गज नेता करीब दो दर्जन से ज्यादा सभाएं कर रहे हैं। जबकि एनडीए के सीएम फेस और जेडीयू चीफ नीतीश कुमार भी प्रचार के आखिरी दिन दो जिलों में पांच सभाएं कर रहे हैं। महागठबंधन के सीएम फेस तेजस्वी यादव भी तूफानी दौरे पर हैं। 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीजेपी प्रत्याशी के लिए कटिहार विधानसभा की रैली में बिहार के विकास के लिए एक बार फिर जनता से मौका मांगा। 15 साल के कामकाज का खांका पेश करते हुए मुख्यमंत्री ने दावा किया कि जब वो राज करने आए थे तो उस वक्त तमाम क्षेत्रों में इन्फ्रास्ट्रक्चर खस्ता हालत में था। न राजस्व था न संसाधन थे। गरीब और वंचित समाज हाशिये पर था। सबसे पहले शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार और कानून के इन्फ्रास्ट्रक्चर को दुरुस्त किया गया। गांव-गांव गली-गली सड़क, बिजली, पेयजल, शौचालय, स्कूल इसका उदाहरण है। नीतीश ने कहा- "ऐसा कोई मौका नहीं रहा जब लोग परेशानी में रहे हों और मैं जानने नहीं पहुंचा।"

महिलाओं को आरक्षण देकर बढ़ाया आगे 
मुख्यमंत्री ने कहा- "समाज में सबको आगे बढ़ाने के लिए हम लोगों ने कदम उठाया। स्कूल और अस्पतालों की हालत सुधारी। महिलाओं को 50% आरक्षण देकर पंचायती राज और नगर निकायों में उनके प्रतिनिधित्व को कितना आगे बढ़ाया। महिलाओं के अलावा एससी/एसटी, ओबीसी, अति पिछड़ा और महादलित समाज को आरक्षण देकर आगे बढ़ाया। बच्चे स्कूलों से बाहर रह जाते थे। आज क्या स्थिति है। एनडीए सरकार में स्कूलों में बच्चों की संख्या बढ़ी। आज स्कूल से बाहर रहने वाले बच्चों की संख्या ना के बराबर है।" 

लक्ष्य से पहले पूरा किया हर घर बिजली का वादा 
नीतीश ने कहा- "क्या लक्ष्य था हमारा। हमने कहा था कि 2018 के अंत तक हर घर बिजली पहुंचा देंगे। दो महीना पहले बिजली पहुंचा दिया। अब बिजली की खपत और बढ़ रही है। सिंचाई के लिए भी इसका इस्तेमाल हो रहा है। सरकार बिजली के मद में 5 हजार करोड़ से ज्यादा सहायता दे रही है। जब भी काम का मौका मिला वायदे को पूरा किया गया। अब हर गांव सोलर स्ट्रीट लाइट, हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाएंगे। गांव हो या शहर जितना काम किए हैं उसका संरक्षण भी करेंगे और इंतजाम करेंगे कि साफ-सफाई बनी रहे। "  

मजबूरी में कोई नहीं जाएगा बिहार से बाहर 
नीतीश कुमार ने कहा- "हम आदरणीय पीएम मोदी के नेतृत्व में बिहार को आत्मनिर्भर बनाने का काम शुरू कर चुके हैं। औद्योगिक विकास के लिए हम लोगों ने खांका खींच लिया है। कई काम हो रहे हैं। मैं भरोसा दिलाना चाहता हूं कि एनडीए की सरकार बनी तो कोई भी बिहार से बाहर मजबूरी में नहीं जाएगा।" नीतीश ने भ्रम फैलाने वालों से लोगों को बचने की सलाह भी दी।