पटना (Bihar) । बिहार में आज नीतीश सरकार की पहली कैबिनेट की बैठक संपन्न हो गई। ये बैठक सिर्फ 21 मिनट चली। खबर है कि इस मीटिंग में फैसला लिया गया कि इस सरकार का पहला विधानसभा सत्र 23 से 27 नवंबर तक चलेगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीएम अपने पास  गृह मंत्रालय और सामान्य प्रशासन के अलावा कुछ और भी विभाग रहेंगे। वहीं डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद (Deputy CM Tar kishore Prasad) के पास पर्यावरण, वन, सूचना प्रौद्योगिकी, आपदा प्रबंधन और शहरी विकास का विभाग है। जबकि दूसरी डिप्टी सीएम रेणु देवी के जिम्मे पंचायती राज विभाग के अलावा उद्योग विभाग की जिम्मेवारी दी गई है।

किसे मिला कौन सा विभाग
-पूर्व सीएम जीतन राम मांझी के पुत्र संतोष सुमन को लघु सिंचाई के अलावा एससी-एसटी कल्याण विभाग की जिम्मेवारी दी गई है।
-मुकेश सहनी को पशुपालन और मत्स्य विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।
-बीजेपी के नेता मंगल पांडे को पूर्व की तरह इस बार भी स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी दी गई है। इसके अलावा उनके पास कला संस्कृति विभाग रहेगा।
-बीजेपी के आरा विधायक अमरेन्द्र प्रताप सिंह को कृषि, सहकारिता समेत गन्ना विकास मंत्रालय दिया गया है, जबकि बीजेपी के ही नेता रामप्रीत पासवान को पीएचईडी मंत्रालय दिया गया है।
-बीजेपी के ही जीवेश कुमार को पर्यटन, श्रम और खदान विभाग दिया गया है, जबकि रामसूरत राय को राजस्व और विधि मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है।
-जेडीयू के वरिष्ठ नेता विजय चौधरी के जिम्मे ग्रामीण विकास के अलावा सूचना और प्रसारण मंत्रालय समेत संसदीय कार्य मंत्रालय का प्रभार है।
-जेडीयू के नेता विजेंद्र यादव को बिजली और खाद्य उपभोक्ता संरक्षण जैसे विभाग दिया गया है।
-मेवालाल चौधरी को बिहार का शिक्षा मंत्री बनाया गया है।
-जबकि शीला कुमारी को परिवहन विभाग मिला है। 
-जेडीयू के ही अशोक चौधरी को भवन निर्माण के अलावा समाज कल्याण विभाग भी मिला है।

जीतन राम मांझी को प्रोटेम स्‍पीकर बनाने पर सहमति
पूर्व सीएम जीतन राम मांझी को प्रोटेम स्‍पीकर बनाने पर भी सहमति बनी है। अब आगे पहले सत्र में प्रोटेम स्‍पीकर नए सदस्‍यों को शपथ दिलाएंगे। फिर, स्‍पीकर (Speaker) का चुनाव होगा। खास बात यह है कि कैबिनेट की पहली बैठक में मंत्रिमंडल के सहयोगियों के बीच विभागों का बंटवारा (Allocation of Portfolios) नहीं हो सका है। इसके लिए मंथन जारी है।

एक दिन पहले 15 मंत्रीमंडल के साथ नीतीश ने लिया था शपथ
बताते चले कि एक दिन पहले सोमवार को पटना में सीएम नीतीश कुमार, दो डिप्टी सीएम समेत कुल 15 लोगों ने मंत्री मंडल के सदस्य के तौर पर शपथ ली। नीतीश कुमार की नई सरकार में 12 मंत्रियों ने शपथ लिया। शपथ लेने वाले मंत्रियों जिनमें दो डिप्टी सीएम भी हैं। इसके अलावा JDU से 5, भाजपा से 7 और हम-वीआईपी से एक-एक मंत्री शामिल हैं। 

सुबह हुई थी बीजेपी कार्यालय में बैठक
आज सुबह कैबिनेट बैठक से पहले भाजपा कार्यालय में पार्टी की बैठक हुई थी। इसमें भाजपा कोटे से बनाए गए सभी मंत्री शामिल थे।