Asianet News HindiAsianet News Hindi

45 दिन से लॉकडाउन में बंद थी दुकान, जब शटर खुला तो दिखा दिल दहला देने वाला सीन

मामला बिहार के वैशाली जिले का है। जहां के लालगंज बाजार में बीते 45 दिनों से बंद एक सैलून में सांपों ने अपना आशियाना बना लिया था। शनिवार को जैसे ही सलून की सफाई के लिए शटर उठाया तो अंदर का डराने वाला था। 

20 to 25 snakes found in a saloon shop in vaishali pra
Author
Vaishali, First Published May 10, 2020, 3:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वैशाली। कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव के लिए 24 मार्च से लॉकडाउन है। लॉकडाउन के कारण कल-कारखानों के साथ-साथ तमाम दुकानें भी बंद हैं। लॉकडाउन की दूसरी मियाद पूरी होने के बाद इसमें ढील दी गई थी। केंद्र सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार राज्य सरकार ने स्थानीय प्रशासन को लॉकडाउन में ढील देने की घोषणा की थी। इस घोषणा के बाद बिहार के अलग-अलग जिलों में डीएम के आदेश पर कुछ दुकानें खुल रही हैं।  

इस बीच बिहार के वैशाली जिले से एक अजीब मामला सामने आया है। लॉकडाउन के कारण बीते 45 दिनों से बंद पड़े वैशाली के एक सैलून को सांपों ने अपना आशियाना बना लिया। शनिवार को जैसे ही सैलून मालिक श्रवण कुमार ने दुकान की साफ-सफाई के लिए शटर उठाया तो अंदर का नजारा देख वो हैरान रह गया। सैलून के फर्श पर 20 से 25 सांप रेंगते मिले। ये घटना वैशाली के लालंगज बाजार की है। 

दुकानदार ने बताया कि 45 दिनों बाद शनिवार को जैसे ही दुकान की सफाई करने के लिए सैलून खोला था। शटर खोलते ही देखा कि फर्श पर हर जगह सांप रेंग रहे थे। डर के मारे शटर को खुला छोड़कर मैं पीछे हट गया। जिसके बाद आसपास के लोगों को जुटाया। इसके बाद स्थानीय लोगों की मदद से सभी सांप को बाहर खेत की ओर भगाया गया। सांप के भाग जाने के बाद श्रवण ने राहत की सांस ली और दुकान की सफाई में जुट गया। 

बता दें कि लॉकडाउन के कारण लोगों की आवाजाही कम होने से जानवर भी हैरान हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios