Asianet News HindiAsianet News Hindi

बिहार के लालू की सरकार आई तो जाओगे जेल, नीतीश भी नहीं बचा पाएंगे, जाने वायरल ऑडियो के पीछे की कहानी..

जदयू के मुख्य प्रवक्ता एवं पूर्व मंत्री नीरज कुमार ने बिहार प्रशासनिक सेवा के एक अधिकारी पर राजद के पक्ष में कुशेश्वरस्थान के एक वोटर को धमकाने का आरोप लगाया है। उन्होंने मोबाइल पर बातचीत का दो ऑडियो टेप जारी कर राजद पर हमला बोला है।

bihar after by election voting, audio of an officer threatening a voter in kusheshwarsthan goves viral, JDU reached at election commission
Author
Patna, First Published Oct 31, 2021, 12:25 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना : बिहार (bihar) विधानसभा उपचुनाव की वोटिंग भले ही खत्म हो गई है। लेकिन आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला अब भी जारी है। ताजा मामला मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (nitish kumar) की पार्टी JDU की तरफ से जारी किए गए ऑडियो का है, जिसे लेकर जदयू दावा कर रही है कुशेश्वरस्थान में वोटरों को लालू यादव (lalu yadav) की पार्टी राजद (RJD) के पक्ष में धमकाया गया। चुनाव आयोग के मुताबिक ये ऑडियो आयोग को मिला है और इसकी जांच शुरू हो गई है।

क्या है पूरा मामला
दरअसल, जदयू के मुख्य प्रवक्ता एवं पूर्व मंत्री नीरज कुमार ने बिहार प्रशासनिक सेवा के एक अधिकारी पर राजद के पक्ष में कुशेश्वरस्थान के एक वोटर को धमकाने का आरोप लगाया है। उन्होंने मोबाइल पर बातचीत का दो ऑडियो टेप जारी कर राजद पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) बताएं कि किसके पक्ष में सत्ता का दुरुपयोग किया गया है। नीरज ने अपने ट्वीट में कहा कि राजद को जनता पर भरोसा नहीं है। जदयू के मुख्य प्रवक्ता के मुताबिक ऑडियो की आवाज बिहार प्रशासनिक सेवा के एक अधिकारी की है। वे पहले कुशेश्वरस्थान में बीडीओ थे। अभी गया (Gaya) के उपविकास आयुक्त के कार्यालय में सहायक परियोजना पदाधिकारी हैं।

 

लालू छोड़ते नहीं हैं, नीतीश का भरोसा नहीं
वीडियो में बोलने वाले शख्स कथित अधिकारी ने कुशेश्वरस्थान विधानसभा क्षेत्र के वोटर रंजन को कहा कि वह अपने गांव के जन वितरण प्रणाली के दुकानदार भागीरथ को जदयू की तरफदारी करने से रोके। उसे बताए कि तेजस्वी यादव की सरकार बनने जा रही है। लालू प्रसाद छोड़ते नहीं हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उसे बचाने नहीं आएंगे। तीन साल की सजा हो जाएगी। अधिकारी के मुताबिक जविप्र का दुकानदार भागीरथ वोटरों के बीच रुपया बांटता है। जदयू को वोट देने के लिए कहता है। बाद में अधिकारी ने भागीरथ से भी बातचीत की। हालांकि आडियो में भागीरथ अधिकारी को ही हड़का रहा है। वह कह रहा है कि जदयू उम्मीदवार अमन हजारी हमारा भाई है। आप राजद के लिए वोट मांगिए। हम अमन के लिए वोट मांगेंगे। हमें अपनी दुकान की चिंता नहीं हैं। आप धमकी मत दीजिए।

 

चुनाव आयोग पहुंचा मामला
वहीं, अब यह मामला चुनाव आयोग पहुंच गया है। जदयू ने ऑडियो टेप देते हुए राजद के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। जदयू के मुताबिक ये अधिकारी रत्नेश कुमार यादव है जो अभी गया में सहायक परियोजना पदाधिकारी है। चुनाव आयोग के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एचआर श्रीनिवास के अनुसार ये ऑडियो आयोग को मिला है और इसकी जांच शुरू हो गई है।

इसे भी पढ़ें-क्या बेल्जियम में है मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह? जानें संजय निरुपम के दावे के पीछे का सच..

इसे भी पढ़ें-UP election 2022: आज योगी के गढ़ गोरखपुर में प्रियंका गांधी की 'प्रतिज्ञा', 41 सीटों को साधने का प्लान

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios