Asianet News HindiAsianet News Hindi

फिल्मी मर्डर मिस्ट्री : पत्नी से बेइंतहा मोहब्बत का किया नाटक, हाथ कटा तो किलर से सवा लाख में करा दिया कत्ल

गोली लगने से दीपिका शर्मा का एक हाथ खराब हो गया था, उसके बाद से ही ससुराल वाले उसे नापसंद करने लगे थे। इसी के चलते CISF धनबाद में पोस्टेड उसके पति ने पत्नी की हत्या की साजिश रची और एक लाख 20 हजार की सुपारी देकर उसका कत्ल करवा दिया।
 

bihar munger, CISF jawan got his wife killed by giving betel nut stb
Author
Munger, First Published Nov 17, 2021, 3:46 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंगेर : बिहार (Bihar) के मुंगेर (Munger)में दीपिका शर्मा हत्याकांड का पुलिस ने 36 घंटे के अंदर ही खुलासा कर दिया है। मर्डर मिस्ट्री की गुत्थी को सुलझाते हुए पुलिस ने महिला के पति समेत पांचों कातिलों को गिरफ्तार कर लिया है। पत्नी के कत्ल के लिए CISF जवान ने जो साजिश रची, उसे सुन हर कोई दंग है। पुलिस ने बताया कि पत्नी से वह बेइंतहा प्यार करने का नाटक करता था। लेकिन जब एक हादसे में उसके पत्नी का एक हाथ डैमेज हो गया तो उसने प्रोफेशनल किलर को सवा लाख रुपये की सुपारी देकर उसकी हत्या करवा दी। मामले की जांच करते हुए पुलिस ने सभी हत्यारों को पकड़ लिया है। 

क्या है मामला?
मामला 15 नवंबर को कासिम बाजार थाना क्षेत्र के चुआबाग इलाके की है। यहां ससुराल में रह रही दीपिका शर्मा की सुबह 5 बजे के करीब गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना सोमवार को उस वक्त की है जब दीपिका टॉयलेट जा रही थी, उसी समय चारदीवारी फांदकर शूटर अंदर आए और दीपिका पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर उसकी हत्या कर दी। मृतका के भाई कुमार भानु के लिखित आवेदन के आधार पर कासिम बाजार थाने में मामला दर्ज किया गया। घटना के तत्काल बाद SDOP ने जांच के लिए एक टीम बनाई और जांच शुरू की।

कॉल ड‍िटेल से खुलासा
पुलिस की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ी, एक-एक अहम सुराग हाथ लगते गए। पुलिस ने जब मृतका के देवर छोटू शर्मा, ससुर राजीव कुमार और फुफेरे देवर सुमित कुमार की कॉल डिटेल्स निकाली तो सारा माजरा खुलकर सामने आ गया। पुलिस को शूटर गौतम कुमार, संजीव कुमार और पतलू के फोन पर हुई बातचीत का पता चला जिसके बाद पुलिस ने तीनों के घरों पर छापेमारी की और गौतम और संजीव को गिरफ्तार कर लिया जबकि पतलू वहां से भाग निकला।

शूटर ने उगले राज
शूटर गौतम कुमार ने बताया कि CISF धनबाद में पोस्टेड मृतका का पति अपनी पत्नी की हत्या कराना चाहता था, जिसके लिए सौदा 1 लाख 20 हजार रुपए में तय हुआ और एडवांस में 20 हजार रुपए मिले। सुमन कुमार एक हफ्ते तक मृतका के ससुराल में रहकर देवर छोटू शर्मा के साथ रेकी कर रहा था। 14 नवंबर को पूरी योजना तैयार कर सुबह टॉयलेट जाने के समय हत्या करने की साजिश रची गई। सुबह-सुबह सुमित कुमार ने शूटर गौतम को पूरी जानकारी दी, जिसके बाद तीनों शूटर गौतम, संजीव और पतलू घर का बाउंड्री पार कर दीपिका की हत्या गोली मारकर कर दी।

हाथ डैमेज होने से करता था नापसंद
मुंगेर एसपी जगुनाथरेड्डी जलारेड्डी ने बताया कि साल 2017 में दीपिका शर्मा के मायके बरियारपुर में गोलीबारी की घटना हुई थी। उस समय मृतका सात महीने की गर्भवती थी। उस घटना में गोली लगने से मृतका की मां की मौत हो गई थी जबकि दीपिका को दो गोली लगी थी, जिसमें एक गोली उसके बायें हाथ में लगी थी। इस वजह से बाएं हाथ ने काम करना बंद कर द‍िया था। इस कारण से मृतका के ससुराल वाले उसे नापसंद करने लगे थे।

इसे भी पढ़ें-MA पास दुल्हन पर शादी के दूसरे दिन पति ने की सारी हदें पार, पहुंच गई थाने..कहा-मुझे नहीं रहना उसके साथ

इसे भी पढ़ें-ताबूत में शहीद पति का शव देख बेसुध हो गई पत्नी, 3 साल के बेटे ने जब पिता पर चढ़ाए फूल तो हर कोई रोने लगा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios