Asianet News HindiAsianet News Hindi

बिहार में कौन है Khan Sir? जिस पर RRB-NTPC विवाद में दर्ज FIR, छात्रों को भड़काने का बताया जा रहा मास्टरमाइंड


बिहार में छात्रों को भड़काने के आरोप में पटना के एक मशहूर खान समेत अन्य शिक्षकों पर पटना पुलिस ने  एफआईआर दर्ज कर ली है। बताया जा रहा है कि इसी खान सर के उकसाने पर ही छात्रों ने जमकर बवाल काटा था।
 

bihar rrb ntpc exam case fir on khan sir for accused of inciting students  kpr
Author
Patna, First Published Jan 27, 2022, 11:26 AM IST

पटना. बिहार में रेलवे की NTPC परीक्षा में धांधली के आरोप में लगाकर छात्रों ने बुधवार को जगह-जगह जमकर बवाल काटा। इस पूरे आंदोलन को देखते ही देखते हिंसक बना दिया गया। कई जगहों पर छात्रों ने स्टेशन पर खड़ी ट्रेनों में आग लगा दी। इस पूरे मामले का मास्टरमाइंड पटना के एक खान सर नाम का शख्स को बताया जा रहा है। जिस पर आरोप लगा है कि उसने ही छात्रों को भड़काया था और उसके कहने पर ही वह उग्र हुए थे। अब पुलिस ने छात्रों के बयान के आधार पर खान सर पर एफआईआर दर्ज कर ली है।

खान सर के अलावा अन्य कोचिंग संचालकों पर FIR
दरअसल, एनटीपीसी रिजल्ट को लेकर पिछले तीन दिनों से चल रहे विरोध-प्रदर्शन मामले पर कोचिंग संचालक खान सर के खिलाफ पटना के पत्रकार नगर थाने में केस दर्ज हुआ है। खान सर के अलावा एसके झा सर, नवीन सर, अमरनाथ सर, गगन प्रताप सर, गोपाल वर्मा सर और बाजार समिति के विभिन्न कोचिंग संचालकों के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया है। इन सभी पर आरोप है कि इन्हीं ने छात्रों को जमा किया था, साथ ही इनके कहने पर ही छात्रों ने उग्र प्रदर्शन किया था।

खान सर ने ही प्रेरित किया था...
बता दें कि 24 जनवरी को पटना के राजेंद्र नगर टर्मिनल पर छात्रों ने जोरदार हंगामा किया था। इसी मामले में 300 से 400 अज्ञात लोगों पर केस दर्ज किया गया था। वहीं पुलिस ने इस मामले में कुछ छात्रों को हिरासत में लिया है। जिसमें मुख्य रुप से छात्र किशन कुमार, रोहित कुमार, राजन कुमार और विक्रम कुमार के नाम शामिल हैं। इन लोगों से जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो उन्होंने सारी कहानी बयां कर दी। उनका कहना है कि खान सर समेत अन्य टीचर ने ही ऐसा करने के लिए प्रेरित किया था। उनके कहने पर ही सभी छात्र जमा हुए थे।

अपनी एफआईआर पर खान सर ने दी यूं सफाई...
इस पूर में एफआईआर दर्ज होने के बाद खान सर अपनी सफाई दी है। जब पत्रकारों ने उनसे सवाल किया कि आपको ही इस पूरे घटनाक्रम का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है? तो खान सर ने कहा-मैंने किसी को नहीं उकसाया हुआ है, अगर अगर हिंसा में उनकी भूमिका है तो पुलिस मुझको गिरफ्तार कर सकती है। यह सब जो हुआ है वह बिना किसी प्लान के तहत हुआ है, डेड़ करोड़ छात्रों में रेलवे और आरआरबी के प्रति कई दिनों से गुस्सा था। आरआरबी ने इंटरमीडिएट और ग्रेजुएट वाले का एक जैसा रिजल्ट दे दिया। बस उनकी इसी गलती की वजह से छात्रों ने आंदोलन को उग्र किया है।

आखिर कौन है खान सर?
बता दें कि वैसे तो खान सर के बारे में अभी तक मीडिया और सोशल साइट पर ज्यादा जानकारी नहीं है। लेकिन उनके बारे में इतना पता है कि यह खान सर एक टीचर है, जो कि छात्रों को  जनरल स्टडीज की कोचिंग देता है। उसने प्रतियोगी परिक्षाओं की तैयारी कराने के लिए अपना एक  यूट्यूब चैनल भी बनाया हुआ है। जिस पर उसका पता पटना का डला हुआ है,स साथ इस चैनल में भी उसका नाम खान सर ही लिखा है।

फैजल खान या अमित सिंह...क्या है असली नाम
पिछले साल भी खान सर के नाम को लेकर जमकर विवाद हुआ था, उन्होंने पिछले साल पाकिस्तान में हो रही हिंसा को लेकर एक वीडियो बनाया था। जिसको लेकर भी वह चर्चा में आए थे। वहीं कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर दावा किया गया कि खान सर का असली नाम अमित सिंह है। हालांकि कुछ का कहना है कि उनका पूरा नाम फैजल खान हैं और वो यूपी के गोरखपुर के रहने वाले हैं। यहां उनको एक कोचिंग सेंटर ने छात्रों को पढ़ाने के लिए बुलाया है। जब उनके नाम को लेकर विवाद हुआ तो उन्होंने बताया था कि मुझे एक कोचिंग संस्थान ने पढ़ाने के लिए बुलाया है। साथ ही कहा गया है कि छात्रों को अपना ना तो नाम बताना है और ना ही अपना मोबाइल नंबर बताना है। हालांकि छात्रों ने उनको खान सर कहना शुरू कर दिया तभी से लेकर उनको खान सर के नाम से जाना जाता है।


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios