Asianet News HindiAsianet News Hindi

बिहार में युवक की बर्बर हत्या, पुलिस को बटोरना पड़ा शव, प्राइवेट पार्ट भी काटा गया

बिहार में एक युवक की निर्मम हत्या का मामला सामने आया है। युवक की हत्या इतनी निर्मम तरीके से की गई कि पुलिस को युवक की लाश के टुकड़े बटोरनी पड़ी। मामला मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना क्षेत्र के मारकन गांव की है।

brutal murder of a young man in Bihar police had to collect the dead body pwt
Author
First Published Sep 17, 2022, 12:08 PM IST

मुजफ्फरपुर (बिहार): बिहार में एक युवक की निर्मम हत्या का मामला सामने आया है। युवक की हत्या इतनी निर्मम तरीके से की गई कि पुलिस को युवक की लाश के टुकड़े बटोरनी पड़ी। मामला मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना क्षेत्र के मारकन गांव की है। युवक की खौफनाक तरीके से हत्या की गई है। हत्यारों ने युवक के हाथ-पैर काट दिया। उसका पेट भी फाड़ दिया। शरीर पर कई गहरे जख्म दिए। गला भी कटा मिला। उसके प्राइवेट पार्ट भी काटने की बात सामने आई है। लेकिन इसकी अधिकारिक पुष्टी अभी नहीं हुई है। हत्या करने के बाद युवक का शव गांव के ही एक प्राइवेट स्कूल के पीछे फेंक दिया गया। शुक्रवार की रात पुलिस ने उसका शव क्षत विछत हालत में बरामद किया। मृतक की पहचान मारकन गांव में ही रहने वाले सुजीत कुमार (27) के रुप में हुई है। घटना के बाद से गांव में तनाव है। 

पांच दिन से लापता था मृतक
मृतक सुजीत कुमार 11 सितंबर से लापता था। परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट स्थानीय थाना में दर्ज कराई थी। युवक की क्षत विछत लाश मिलने की सूचना पर जिले के एसएसपी जयकांत भी देर रात गांव पहुंचे। परिजनों ने सुजीत की हत्या का आरोप गांव के ही अरमान नामक युवक पर लगाया है। बताया जा रहा है कि इस हत्याकांड में संजय और मुस्कान नामक युवक भी शामिल थे। तीनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पैसों को लेकर हुए विवाद में सुजीत की हत्या की बात सामने आ रही है। गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है। 

नौकरी दिलाने सूरत ले गया था अरमान
मृतक के पिता जागेश्वर राम ने बताया कि पैसों को लेकर अरमान से पुत्र का विवाद था। कुछ दिनों पूर्व अरमान उनके पुत्र को नौकरी दिलाने के लिए सूरत लेकर गया था। अरमान ने बोला था कि वह कपड़ा दुकान में सुजीत की नौकरी लगवा देगा। लेकिन सूरत जाने के बात अरमान सुजीत को प्रताड़ित करने लगा। पैसे भी नहीं देता था। इसका विरोध करते हुए सुजीत ने घर जाने की बात कही तो अरमान ने सुजीत को गांव भेज दिया। कहा कि गांव आकर पैसे देगा। लेकिन गांव आने के बाद भी अरमान ने सुजीत को पैसे नहीं दिए।

10 सितंबर को सुजीत अरमान से पैसे मांगने गया लेकिन अरमान बहाना बनाने लगा। इसी कारण दोनों के बीच विवाद हुआ। इसके ठीक एक दिन बाद पुत्र लापता हो गया। सकरा थाना प्रभारी सरोज कुमार के अनुसार शव चार-पांच दिन पुराना है। शव डिक्मपोज होने लगा था। शरीर के कटे हुए अंग शव के पास ही फेंके हुए थे। तीन युवकों को गिरफ्तार किया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

इसे भी पढ़ें-  मोबाइल का लालच देकर 7 साल के बच्चे को बनाया हवस का शिकार, पुलिस ने भी दिखाई बेरुखी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios