बेगूसराय। बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। मतलब कि पूरे राज्य में शराब पीना, बेचना अथवा बनाना प्रतिबंधित है। ऐसा करते पकड़े जाने पर कड़ी सजा दी जाती है। लेकिन प्रशासन की नाकामी के कारण यह कानून दम तोड़ता नजर आ रहा है। हर जिले में शराब की होम डिलवरी हो रही है। अलग-अलग जिलों से कई बड़ी खेप भी पकड़ी गई है। इसके साथ ही शराब के नशे में हत्या, लूट जैसे कई संगीन वारदातों के घटित होने का भी मामला सामने आया है। ताजा मामला बेगूसराय का है, जहां शराब पीने के लिए ग्लास नहीं देने पर वृद्ध की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। 

मुफस्सिल थाना क्षेत्र के सुजा का मामला
घटना बेगूसराय के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के सूजा गांव की है। जहां नशे में टल्ली होकर एक शराबी ने बुजुर्ग दुकानदार से शराब पीने के लिए ग्लास मांगा। ग्लास नहीं देने पर नशे में धुत शराबी ने बुजुर्ग की जमकर पिटाई कर दी। पिटाई की सूचना पर पहुंचे वृद्ध दुकानदार के परिजनों ने जख्मी को सदर अस्पताल में भर्ती कराया। जहां शुक्रवार की सुबह इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। मृतक की पहचान सूजा गांव निवासी राम रतन सिंह के रूप में की गई है। 

आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी
बताया जा रहा है कि बीती रात मृतक राम रतन सिंह अपने दुकान पर बैठा हुआ था उसी वक्त शराबी मनोज साह ने वहां पहुंचा और शराब पीने के लिए ग्लास मांगा। जब बुजुर्ग ने ग्लास देने से शराबी को इंकार किया तो मनोज साह उसे दुकान से खींचकर पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। मारपीट की सूचना पर जबतक राम रतन सिंह के परिवार के लोग मौके पर पहुंचते जबतक आरोपी मनोज साह मौके से फरार हो गया। परिजनों ने आनन-फानन में इलाज के लिए बेगूसराय सदर अस्पताल में बुजुर्ग को भर्ती कराया जहां आज सुबह इलाज के दौरान राम रतन सिंह की मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है।