कटिहार (bihar) । लापरवाही की एक बड़ी तस्वीर सामने आई है, जो किसी बड़े हादसे की ओर इशारा कर रही है। बता दें कि ये तस्वीर हसनगंज प्रखंड के बाढ़ ग्रस्त इलाके में से की है। जहां लोग नाव का किराया बचाने के लिए बच्चों की जान जोखिम में डालने से नहीं चुक रहे। दरअसल वे गैस के सिलेंडर को लोग चॉकलेट की लालच देकर बच्चों से उफनाई नदी पार करवा रहे हैं।

नाव वाले मांगते हैं मुंहमांगा किराया
हसनगंज और कोढ़ा प्रखंड को नदी से जोड़ने वाले चापी नया टोला के लोग भासना नदी को पार करने के लिए 20 रुपए का किराया नाव वालों को देते हैं। लेकिन, बगल में ही गैस गोदाम से गैस सिलेंडर ले जाने के लिए नाव वाले को दोगुना किराया देना पड़ता है। इस कारण ग्रामीणों ने इसका तोड़ निकालते हुए नदी में खेलते बच्चों के सहारे ही गैस सिलेंडर को पार करवाने लेते हैं।

कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा
गैस सिलेंडर को नदी पार करवाने वाले बच्चे अरबाज और अशफाक कहते हैं कि वो लोग सिलेंडर के साथ तैरकर नदी पार करवाने के लिए कोई शर्तिया पैसों की मांग तो नहीं करते हैं, लेकिन प्रति सिलेंडर लोग उन्हें दो से तीन चॉकलेट दे ही देते हैं।