Asianet News Hindi

बिहार में कन्हैया कुमार के काफिले पर फिर हुआ हमला, नारेबाजी कर फेंके गए जूते-चप्पल

जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और वाम नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर कटिहार में हमला हुआ है। नारेबाजी करती हुई भीड़ ने उनके काफिले पर जूते-चप्पल फेंके। 
 

mob attack on convey of left leader kanhaiya kumar in katihar pra
Author
Katihar, First Published Feb 7, 2020, 3:26 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कटिहार। एनआरसी, एनपीआर और सीएए के खिलाफ जन-गण-मन यात्रा पर निकले जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और बेगूसराय से वाम दल के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ने वाले कन्हैया कुमार के काफिले पर कटिहार में शुक्रवार को हमला हुआ। ये घटना तब हुई जब वो कटिहार के राजेंद्र स्टेडियम में सभा करने के बाद भागलपुर जा रहे थे। जैसे ही उनका काफिला कटिहार के शहीद चौक के पास पहुंचा लोगों ने उनके काफिले पर जूते-चप्पल फेंके। हालांकि प्रशासन ने तत्परता दिखाते हुए कन्हैया के काफिले के सुरक्षित बाहर निकाला। 

सुपौल में भी कन्हैया के काफिले पर हुआ था हमला
बता दें कि इससे पहले कन्हैया कुमार के काफिले पर बिहार के सुपौल जिले में भी हमला हुआ था। सुपौल जिले में तो उनके काफिले में शामिल वाहनों के शीशे तक टूट गए थे। कन्हैया के काफिले में शामिल एक वाहन चालक भी घायल हो गया था। उल्लेखनीय हो कि कन्हैया कुमार केंद्र सरकार द्वारा लागू की गई नागरिकता संशोधन कानून का लगातार विरोध कर रहे है। वो दिल्ली के शाहीन बाग में जारी धरने में शामिल हुए थे। साथ ही देश के अलग-अलग हिस्सों में हो रहे विरोध प्रदर्शन में केंद्र सरकार पर हमला बोल रहे हैं। 

9 फरवरी को मुंगेर में कन्हैया की सभा
इससे उनके खिलाफ केंद्र सरकार का समर्थक समूह नाराज है। ऐसे में उनके काफिले पर हमला हो रहा है। अब आगे जिस शहर में भी कन्हैया की सभा होनी है वहां के प्रशासन को उन्हें सुरक्षा प्रदान कराना चुनौती बन गई है। 9 फरवरी को कन्हैया बिहार के मुंगेर जिले के हाजी सुभान मैदान में एनसीआर के खिलाफ आयोजित सभा को संबोधित करेंगे। ऐसे में मुंगेर जिला प्रशासन उनकी सभा को सुरक्षा देना बड़ी चुनौती होगी।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios