Asianet News HindiAsianet News Hindi

बालू घाट में वर्चस्व को लेकर दो गुटों में मचा घमासान, एक दूसरे पर की सैकड़ों राउंड फायरिंग, 5 की गई जान

पटना जिले में बुधवार के दिन रेती के घाट पर अपना जमाने के कारण फायरिंग की वारदात होने की खबर  सामने आई है।  घटना के बाद 5 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई  घायल हो गई है। मामले में पुलिस सर्च अभियान चला रही है, साथ ही उन्होंने किसी प्रकार की फायरिंग से इनकार किया।

patna crime news clash and firing between two group of sand mafias asc
Author
First Published Sep 29, 2022, 3:18 PM IST

पटना( बिहार): बिहार में बालू घाट पर वर्चस्व को लेकर दो गुटों में देर रात सैकड़ों राउंड फायरिंग हुई। इसमें दोनों गुटों से पांच लोगों की मरने की खबर है। जबकि कई घायल बताए जा रहे हैं। बिहार के राजधानी पटना से सटे बिहिटा थाना क्षेत्र के दियारा में दो गुटों के बीच खूनी संघर्ष हुई। पुलिस मौके पर पहुंच सर्च अभियान चला रही है। हालांकि पुलिस की ओर से फायरिंग में किसी के मरने या घायल होने ही पुष्टि अबतक नहीं की गई है। पुलिस ने घटना स्थल से कई खोखा बरामद किया है। स्थानीय लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। बिहटा थाना के अलावा कई थानों की पुलिस मौके पर सर्च अभियान चला रही है। 

बेखौफ बालू माफिया रात भर चलते रहे गोली
स्थानीय लोगों का कहना है की अमनाबाद में सोन नदी से अवैध रूप से बालू माफिया बालू का उठाव करते हैं। बुधवार रात भी बालू उठाव को रहा था। इसी बीच दो गुटों के बीच फायरिंग शुरू हो गई। रात 11 बजे से लेकर भोर तक दोनों गुट एक दूसरे पर गोली चलाते रहे। इसमें कई घायल हुए जबकि पांच लोगों की मौत होने की बात बताई जा रही है।सभी घायल पुलिस से छिप कर अपना इलाज करवा रहे हैं। बालू घाट पर वर्चस्व को लेकर दोनों गुटों के बीच फायरिंग की घटना हुई। स्थानीय लोगों का कहना है की फायरिंग से पूरा इलाका दहल गया। 

बालू माफियाओं के कारण दहशत में रहते है लोग
स्थानीय लोगों का कहना है की अमनाबाद के सोन नदी बालू घाट पर बालू माफियाओं का कब्जा रहता है। यह काफी दुर्गम इलाका है इस कारण पुलिस भी यहां आने से हिचकती है। यही कारण है की यहां रात भर फायरिंग होती रही लेकिन पुलिस दूसरे दिन मौके पर पहुंची। बालू माफियाओं के कारण स्थानीय लोग सहमे रहते हैं। कोई कुछ भी बोलने की हिम्मत नहीं जुटा पता है। रात के समय में सोन नदी से अवैध रूप से बालू का उठाव किया जाता है। लेकिन प्रशासन इसे रोकने के लिए कोई पहल नहीं करती है। कई गुट यहां अवैध रूप से बालू का उठाव करते हैं।

बालू माफिया समेत 5 की मारे जाने की खबर
बताया का रहा है की दो गुटों के बीच देर रात हुई फायरिंग में बालू माफिया मनेर निवासी शत्रुधन राय की भी गोलीबारी में मौत हुई है। जबकि 4 मजदूरों की भी मारे जाने की बात बताई जा रही है। कई घायल निजी स्तर पर अपना इलाज करा रहे हैं। इस मामले में बिहिटा थानेदार का कहना है की किसी का शव अबतक नहीं मिला है। जबतक शव नहीं मिलता तब तक किसी के मारे जाने की पुष्टि नहीं हो सकती। घटना स्थल पर सर्च अभियान चलाया जा रहा है।

यह भी पढ़े- मीडिया के सामने गुस्से से तिलमिलाई गहलोत की महिला विधायक, बताया कौन है राजस्थान का असली गद्दार?

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios