Asianet News HindiAsianet News Hindi

बॉडीगार्ड को छोड़कर फरार हुए बिहार के पूर्व कानून मंत्री, अपरहण केस में तलाश कर रही है पुलिस

बिहार के पूर्व कानून मंत्री कार्तिक सिंह अपहरण मामले में फरार चल रहे हैं। पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर पा रही है। सूचना है कि कार्तिक सिंह अपने बॉर्डीगार्ड को छोड़ फरार हो गए हैं।  पुलिस लागातार कार्तिक सिंह की तलाश कर रही है।

patna news former law minister kartik kumar singh absconding without bodyguards kidnapping case pwt
Author
First Published Sep 16, 2022, 12:05 PM IST

पटना. बिहार के पूर्व कानून मंत्री कार्तिक सिंह अपहरण मामले में फरार चल रहे हैं। पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर पा रही है। सूचना है कि कार्तिक सिंह अपने बॉर्डीगार्ड को छोड़ फरार हो गए हैं। जानकारी हो कि कार्तिक सिंह बिहार विधान परिषद के सदस्य हैं। जिस कराण उन्हें सुरक्षा गार्ड दिया गया है। कार्तिक सिंह को डर है कि उन्हें गिरफ्तार करने के लिए पुलिस उनके बॉर्डीगार्ड की मदद ले सकती है। इस कारण वे अपने बॉर्डीगार्ड को घर पर ही छोड़ फरार हो गए हैं। पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने के लिए लगातारा छापेमारी कर रही है।

पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा बताया कि पुलिस लागातार कार्तिक सिंह की तलाश कर रही है। उनके दोनों घरों पर पुलिस की टीम को भेजा गया लेकिन वे घर से फरार मिले। उनके सुरक्षा गार्ड भी उनके घर पर मिले। 

19 सितंबर को होगी अपहरण केस की सुनवाई 
जानकारी हो कि कार्तिक सिंह, बिल्डर राजू सिंह के अपहरण केस के मामले में फरार चल रहे हैं। इस मामले की सुनवाई 14 सितंबर को दानापुर कोर्ट में होने वाली थी लेकिन जज के छुट्‌टी पर होने के कारण सुनवाई नहीं हो पाई थी। अब इस केस की सुनवाई 19 सितंबर को होनी है। जानकारी हो बिहार में महागठबंधन की नई सरकार ने कार्तिक सिंह को कानून मंत्री बनाया गया था। लेकिन अपहरण केस में नाम आने के बाद उन्हे पद से हटा दिया गया था। तब से वे फरार चल रहे हैं। 

ये है मामला 
वर्ष 2014 में बिल्डर राजू सिंह का अपहरण हुआ था। पूर्व विधायक अनंत सिंह के साथ कार्तिक सिंह और अन्य बिहटा निवासी राजू सिंह का अपरहण करने गए थे। इसी मामले में कार्तिक सिंह समेत अन्य पर केस दर्ज किया गया था। इस मामले में कार्तिक सिंह के खिलाफ कोर्ट से वारंट भी निकला था। उन्हें कोर्ट में सरेंडर करने को कहा गया था। इसी साल 12 अगस्त को कोर्ट ने कार्तिक सिंह को एक सितंबर तक राहत दी थी। बिहार में महागठबंधन की सरकार करने के बाद 16 अगस्त को कार्तिक सिंह ने कानून मंत्री पद की शपथ ली थी।

इसे भी पढ़ें-  बेगूसराय गोलीकांड: फायरिंग करने वाले सभी आरोपी अरेस्ट, 47 मिनट में 11 लोगों पर चलाई थी गोली

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios