Asianet News HindiAsianet News Hindi

ये है बिहार: अस्पताल में चल रहा था सेक्स कांड, कैदियों की अय्याशी के लिए दूसरे राज्य से मंगाई जाती थी गर्ल्स

देह व्यापार की खबरें खूब आती रहती हैं। लेकिन बिहार के हाजीपुर से एक शॉकिंग सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है। जहां अस्‍पताल के कैदी वार्ड में आरोपी लड़कियों के साथ रंगरलियां मनाते पकड़े गए। बताया जाता है कि कैदियों के लिए  दूसरे राज्य  से लड़कियां बुलाई जाती थीं।
 

patna news prisoner ward of hospital prostitution accused serving sentence with call girls Bihar kpr
Author
First Published Sep 29, 2022, 12:11 PM IST

हाजीपुर. बिहार के एक अस्पताल में देह व्यापार चलने का खुलासा गुरुवार की सुबह हुआ। जिसके बाद से अफरा-तफरी मच गई। अस्पताल के कैदी वार्ड में कैदी रंगरेलियां मनाते पकड़े गए। पुलिस ने कैदी वार्ड के एक युवती समेत कई लोगों को हिरासत में लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। बिहार के हाजीपुर सदर अस्पताल के कैदी वार्ड में यह धंधा चल रहा था। यहां सजायाफ्ता कैदी इलाज के नाम पर अस्पताल में भर्ती होकर रंगरेलियां मनाने की बात सामने आ रही है। कैदी वार्ड से पकड़ी गई युती से पूछताछ की जा रही है। फिल्हाल पुलिस इस मामले में कुछ भी बताने से इनकार कर रही है।

मोबाइल लोकेशन पर कैदी वार्ड में हुई छापेमारी  
बताया जा रहा है कि स्थानीय पुलिस एक लूट की मोबाइल के लोकेशन पर कैदी वार्ड पहुंची थी। लेकिन यहां का माजरा देख पुलिस सन्न रह गई। कहा जा रहा है कि कैदी वार्ड के कर्मियों की मिली भगत से यह धंधा चल रहा था। जिले के करताहां थानाध्यक्षक प्रवीण कुमार ने कैदी वार्ड में एक लड़की के मिलने की सूचना वहां के डीएसपी ओम प्रकाश को दी। जिसके बाद भारी फोर्स के साथ कैदी वार्ड में रेड किया गया। वहां से पांच पुलिस कर्मी, एक स्वास्थ्य कर्मी और एक युवती को हिरासत में लिया। डीएसपी अभी इस मामले में कुछ नहीं बोल रहे हैं। पूछताछ के बाद ही पूरे मामले की जानकारी देने की बात कही जा रही है। 

बाहर से लाई जाती थी लड़कियां
बताया जा रहा है कि कैदी वार्ड के पुलिस कर्मी और स्वास्थ्य कर्मियों की मदद से बाहर से लड़कियां लाई जाती थी। कैदी वार्ड इलाज करा रहे कैदियों के लिए यह इंतेजाम किया जाता था। पुलिस यहा पता लगा रही है इस धंधे में कौन-कौन शामिल है और कितने दिनों से यह खेल चल रहा है। बताया जा रहा है कि मोटी रकम देकर बाहर से लड़कियों को कैदियों की सेवा देने के लिए लाया जाता था। इसमें कैदी वार्ड में तैनात पुलिस कर्मी भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें-3 महीने पहले लव मैरिज-एक माह बाद प्रेग्नेंट, तीसरे महीने पति ने सीने पर गोली मार की हत्या, शॉकिंग है कहानी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios