Asianet News HindiAsianet News Hindi

बिहार में जब पूर्व IPS बीच सड़क लात-घूंसे खाएंगे, तो आम पब्लिक का भगवान ही मालिक है!

बिहार में गुंडागर्दी का एक शर्मनाक मामला सामने आया है। पटना में बाकर्स गैंग ने एक पूर्व IPS को बीच सड़क दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। बाइकर्स बगैर हेलमेट खतरनाक तरीके से बाइक चला रहे थे। पूर्व पुलिस अफसर ने उन्हें रोककर बाइक की चाबी खींच ली थी। इसके बाद बाइकर्स गैंग ने उनकी बीच सड़क पिटाई कर दी। इस मामले को लेकर राजनीति गर्मा गई है।

Road rage shocking case in Bihar, attack on former IPS officer
Author
Patna, First Published Aug 14, 2019, 5:46 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना.अगर आप बिहार की सड़कों पर जा रहे हैं, तो बाइकर्स गैंग की स्टंटबाजी को देखकर मुंह फेर लें! एक अच्छे नागरिक का फर्ज निभाना यहां एक पूर्व DIG को भारी पड़ गया। स्टंटबाज लड़के को टोकने पर उन्हें बीच सड़क बुरी तरह पीटा गया। इस मामले ने कानून व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी। मामले को लेकर राजनीति गर्मा गई है। कांग्रेस ने कहा कि जब एक पूर्व पुलिस अफसर सड़कों पर सुरक्षित नहीं, तो आम पब्लिक का भगवान ही मालिक है। अजय वर्मा 1985 बैच के IPS अधिकारी थे। पिछले साल उन्होंने वीआरएस) ले ली थी। 

यह है पूरा मामला..
घटना मंगलवार को  न्यू बाइपास पर खेमनीचक इलाके में हुई। यह घटना सोशल मीडिया पर जबर्दस्त वायरल हुई है। हुआ यूं कि पूर्व IPS अजय वर्मा दोपहर करीब साढ़े 3 बजे अपने बेटे और पत्नी के संग कार से कहीं से लौट रहे थे। तभी शिवम स्कूल की छुट्टी हुई। बच्चे रोड क्रॉस कर रहे थे। स्कूल के गार्ड ने उन्हें हाथ देखकर गाड़ी रोकने कहा। उन्होंने अपनी गाड़ी रोक दी, तभी पीछे से एक बाइक ने उनकी कार को टक्कर मार दी। इससे उनकी कार की बैकलाइट टूट गई। इस पर अजय वर्मा की पत्नी ने कार से उतकर बाइक सवार को डपट लगाते हुए पुलिस बुलाने की चेतावनी दी। बाइक सवार बगैर हेलमेट था। अजय वर्मा ने उसकी बाइक की चाबी निकाली, तो वो भड़क उठा। उसने फोन करके अपने दोस्तों को बुला लिया। इसके बाद पूर्व IPS को लात-घूंसों से पीटना शुरू कर दिया। अजय वर्मा अपनी जान बचाकर भागे, लेकिन हमलावर लड़के नहीं रुके। वे दौड़ा-दौड़ाकर उन्हें पीटने लगे। इस दौरान वहां काफी भीड़ जुट गई, लेकिन किसी ने भी लड़कों को रोकने की कोशिश नहीं की। अजय वर्मा की पत्नी डरके मारे बचाओ-बचाओ चिल्लाती रहीं। उनका बेटा भी काफी डर गया। वो भुवनेश्वर में इंजीनियरिंग कर रहा है।

Road rage shocking case in Bihar, attack on former IPS officer

बेबस दिखी पुलिस 
अजय वर्मा ने जेसे-तैसे  पटना के ट्रैफिक SP और ASP को फोन किया, लेकिन प्रॉपर रिस्पांस न मिलने पर DGP को भी कॉल किया। इसके बाद घटनास्थल पर दो  पुलिस अफसर पहुंचे। लेकिन अपने इलाके का मामला न होने की बात कहकर उन्होंने पल्ला झाड़ लिया। अजय वर्मा ने कहा कि अपराधियों में पुलिस का भय होना चाहिए था। तत्काल कार्रवाई होनी चाहिए। क्षेत्र का मामला बताकर पल्ला झाड़ना ठीक नहीं है। हालांकि बाद में SSP गरिमा मलिक ने बताया कि यह रोडरेज का मामला है। पुलिस ने आरोपी युवक की बाइक जब्त कर ली है। तीन आरोपियों सन्नी, आलोक और चंदन को गिरफ्तार कर लिया। बाकी दो को पकड़ने छापामार कार्रवाई की जा रही है।

मामले को लेकर राजनीति गर्माई
इस मामले पर राजद नेता वीरेंद्र ने प्रदेश सरकार और कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि जब एक पूर्व पुलिस अफसर के साथ ऐसा हो सकता है, तो आम नागरिकों का भगवान मालिक है। कांग्रेस नेता राजेश राठौड़ ने कहा किबिहार में मॉब लिंचिंग की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। हालांकि JDU के प्रवक्‍ता संजय सिंह ने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios