Asianet News HindiAsianet News Hindi

हाथ पीछे बांधकर शख्स पर टूट पड़ा पूरा गांव, दूर तक सुनाई पड़ीं चीखें

बिहार के पटना जिले में हिंसक भीड़ की दिल दहलाने वाली तस्वीर सामने आई है। एक बेकसूर पर पूरा गांव जुल्म ढा रहा था। वहीं कुछ लोग हंसते-मुस्कराते हुए फोटो-वीडियो निकालने में लगे थे।

Sensational case of Mob lynching in Bihar, photo viral
Author
Patna, First Published Aug 10, 2019, 3:24 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना. बिहार में मॉब लिंचिंग का दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। यहां हिंसक भीड़ ने 40 साल के एक शख्स के पीछे हाथ बांधकर इतनी बुरी तरह पीटा कि उसकी मौत हो गई। घटना नौबतपुर में दो दिन पहले हुई। हालांकि यह मामला शनिवार को मीडिया की चर्चाओं में आया है।

पुलिस की लापरवाही आई सामने
नौबतपुर के महमदपुर में बच्चा चोर होने के इल्जाम में गांववालों ने एक शख्स को पकड़ा था। फिर बगैर उसकी बात सुने पीछे हाथ बांधकर सबने बेरहमी से पीटा। खून से लथपथ वो बेकसूर चीखता रहा, रहम की भीख मांगता रहा, लेकिन किसी ने उसकी एक बात नहीं सुनी। लोग उसे अधमरा होने तक पीटते रहे। कुछ लोग इस घटना का वीडियो-फोटोज लेते रहे। बताते हैं किसी ने इस मामले की जानकारी पुलिस तक पहुंचाई, लेकिन युवक को बचाने समय पर वो नहीं पहुंची।

हॉस्पिटल पहुंचाने में देरी
महमदपुर पटना से बमुश्किल 15 किमी दूर है। काफी देर बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची, तब युवक बुरी तरह घायल पड़ा हुआ था। नौबतपुर थानेदार सम्राट दीपक के मुताबिक, जानकारी मिलने पर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच गई थी। घायल युवक को भीड़ से बचाकर हॉस्पिटल ले जाया गया। वहां से उसे पटना रेफर किया गया। हालांकि उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। शख्स के हाथ पर कृष्ण मांझी नाम का गुदना गुदा हुआ था। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है वो दलित होगा। पुलिस का कहना है इस मामले में 22 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios