Asianet News HindiAsianet News Hindi

नगर निगम की बैठक के दौरान मेयर के बेटे ने लेडी पार्षद को देखकर मार दी आंख

पटना नगर निगम में मंगलवार को गजब हो गया। पार्षद और मेयर जनहित के मुद्दों को छोड़कर एक ऐसे सब्जेक्ट को लेकर भिड़ गए, जिसका बैठक से कोई लेनादेना नहीं था।

Shocking case of molestation in Patna Municipal Corporation meeting
Author
Patna, First Published Aug 21, 2019, 1:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना. पटना नगर निगम की मंगलवार को हुई बैठक में जनहित के मुद्दे छोड़कर पार्षद बेफिजूल के विषय को लेकर आपस में भिड़ गए। कहने को बैठक में भ्रष्टाचार और अन्य जनहित के मुद्दों पर चर्चा होनी थी, लेकिन मेयर के बेटे के कारण हंगामा हो गया। हुआ यूं कि एक पार्षद ने मेयर के बेटे शिशिर पर आरोप लगाया कि उसने आंख मारते हुए अश्लील इशारे किए। इस मामले में बीचबचाव करने आए पार्षद सह सशक्त स्थायी समिति के सदस्य इंद्रदीप चंद्रवंशी और वार्ड 47 के पार्षद सतीश गुप्ता भी आरोप लगाने वाली पार्षद से भिड़ गए। मामला इतना तूल पकड़ गया कि नौबत मारपीट तक पहुंच गई। मामला थाने तक पहुंच गया है। लेडी पार्षद ने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से तक करनी की बात कही है।

ऐसे शुरू हुआ विवाद...
निगम के बांकीपुर अंचल की मंगलवार को बैठक बुलाई गई थी। बैठक के खत्म होने पर पार्षद ने मेयर सीता साहू के पास उनके बेटे की शिकायत लेकर पहुंचीं। पार्षद का आरोप था कि उसने दो बार आंख मारी और गलत इशारे भी किए। जब पार्षद मेयर से बात कर रही थीं, तब शिशिर सभागार में बैठकर खाना खा रहा था। उसे वहां से बुलाया गया। जब शिशिर मेयर के पास पहुंचा, तो दोनों पक्षों में विवाद हो गया। वार्ड-47 के वार्ड पार्षद सतीश गुप्ता ने आग में घी का काम कर दिया। उन्होंने शिशिर को सही, पार्षद को गलत करार दिया। वार्ड 48 के पार्षद सह सशक्त स्थायी समिति के सदस्य इंद्रदीप चंद्रवंशी ने  पार्षद को थप्पड़ मारने तक की बात कह दी। इसके बाद हंगामा हो गया।

Shocking case of molestation in Patna Municipal Corporation meeting

पार्षद पर भी लगते रहे हैं आरोप
मेयर के बेटे ने पार्षद पर भी उंगली उठा दी। उन्होंने कहा कि पार्षद ने दुर्भावना से प्रेरित होकर आरोप लगाए हैं। यह पार्षद हमेशा विवादों में रही हैं। इंद्रदीप चंद्रवंशी ने आरोप लगाया कि पार्षद पर वेंडरों से अवैध वसूली व नाजायज तरीके से होर्डिंग लगाने को लेकर FIR हो चुकी है। उन्हें स्थायी समिति से निकाल दिया गया है।  इसी दुर्भावना से वे मेयर के बेटे पर अनर्गल आरोप लगा रही हैं। उधर, पार्षद ने मेयर के बेटे के खिलाफ कदमकुआं थाने में मामला दर्ज करा दिया है। दो पार्षदों इंद्रदीप चंद्रवंशी और सतीश गुप्ता पर भी गाली-गलौज व हमला करने का केस दर्ज कराया है। कदमकुआं थाना प्रभारी निशिकांत निशि ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios