Asianet News HindiAsianet News Hindi

सिर्फ 2 हजार रु. के लिए बीवी ने लिया खौफनाक इंतकाम, पति की दोनों आंखों में डाल दिया तेजाब

बिहार के सीतामढ़ी में दर्दनाक वारदात की खबर आ रही है। जहां मात्र 2 हजार की बात के बहस के पीछे पत्नी ने पति को ससुराल बुला कर मारपीट की गई। इसके बाद आंखों में तेजाब डाल दिया गया। पीड़ित को गंभीर हालत मे भर्ती कराया  गया है। पुलिस के पहुंचने के बाद पति की जान बच पाई है।

 

Sitamarhi crime news wife beat husband and threw acid in his eyes asc
Author
First Published Sep 14, 2022, 4:52 PM IST

सीतामाढी: बिहार में एक पत्नी ने अपने पति पर कहर बरपाया। पहले तो पत्नी ने अपने माता-पिता साथ मिल पति की जमकर पिटाई की। फिर उसके आंख में तेजाब डाल दिया। जिससे पति के आंखो की रौशनी चली गई। पति की हालत गंभीर है उसका इलाज अस्पताल में चल रहा है। घटना मंगलवार देर रात बिहार के सीतामढ़ी जिले के रीगा थाना क्षेत्र के शहबाजपुर गांव की है। इधर, पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायल को इलाज के लिए अस्पताल भेजवाया।

दो हजार रुपए के लिए हुआ था विवाद
घायल नागेश्वर सिंह ने पुलिस को बताया है कि करीब दो सप्ताह पहले उसका पत्नी पार्वती कुमार से दो हजार रुपए के लिए विवाद हुआ था। गुस्से में पत्नी अपने मायके चली गई थी। मंगलवार की देर रात पत्नी ने उसे फोन कर अपने मायका बुलाया। वह पत्नी के मायके गया तो उसके साथ मारपीट शुरु कर दी गई। लोहे के रड और लोढ़ा से उसे पीटा गया। पत्नी के माता-पिता ने भी उसकी जमकर पिटाई की।  इतने में मन नहीं भरा तो बैटरी का पानी पत्नी ने उसके चेहरे में डाल दिया। घायल अवस्था में उसे छोड़ सभी भाग निकले। पुलिस के पहुंचने पर उसकी जान बची।

10 साल पहले की थी लव मैरेज
अस्पताल पहुंचे घायल के परिजनों ने बताया कि नागेश्वर ने 10 साल पहले पार्वती कुमार से लव मैरेज किया था। दोनों का एक पुत्र भी है। दोनों के बीच सबकुछ ठीक चल रहा था। दो सप्ताह पहले पैसों को लेकर हुए झगड़े के बाद नागेश्वर की पत्नी शहबाजपुर गांव स्थित अपने मायके चली गई थी। देर रात फोन कर पत्नी ने नागेश्वर को मायके बुलाया था। रीगा के थाना प्रभारी इकबाल प्रसाद ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। घायल को अस्पताल भेजा गया है। पत्नी और उसके परिवार के लोगों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

यह भी पढ़े- झारखंड का अनोखा मामलाः 7 दिन से पढ़ाई करने स्कूल आ रहा बंदर, छुट्टी होने पर ही जाता है, पहली बेंच पर है कब्जा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios