Asianet News Hindi

एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने बिहार सरकार पर ट्वीट कर निकाला गुस्सा, मीडिया को भी नहीं बख्शा

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड की एक पीड़िता का दोबारा फिर रेप करने का मामला सामने आया है। इस मामले को लेकर बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने ट्वीट करते हुए प्रदेश की कानून व्यवस्था  पर सवाल उठाया है। स्वरा का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।
 

swara bhasker got angry on bihar government for muzaffarpur shelter home victim
Author
Muzaffarpur, First Published Sep 16, 2019, 4:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना. (बिहार). मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड की एक पीड़िता का दोबारा फिर रेप करने का मामला सामने आया है। बेतिया थाने के पुलिस इंस्पेक्टर शशिभूषण ठाकुर ने बताया कि युवती रविवार को थाने में शिकायत लेकर आई थी जिसमें उसके साथ चार लड़कों ने जबरदस्ती की है। इस मामले को लेकर बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने ट्वीट करते हुए प्रदेश की कानून व्यवस्था  पर सवाल उठाया है। स्वरा का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

स्वरा भास्कर ने ट्वीट के जरिए लिखा...
'यह घटना हमारे भारत देश में महिला सुरक्षा की तरफ नाकामी और कानून व्यवस्था की शर्मनाक छवि को दर्शाती है। राष्ट्रीय मीडिया इस मामले की तरफ नहीं ध्यान नहीं देगा। कथित तौर पर, मुजफ्फरपुर गैंगरेप पीड़िता के साथ एक बार दोबारा बलात्कार हो गया है'।

पीड़िता को पुलिस ने अस्पताल में कराया भर्ती
पुलिस के मुताबिक, पीड़िता की हालत ज्यादा खराब थी, इसलिए उसको पास के ही एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जिसकी मेड़िकर रिपोर्ट डॉक्टरों की टीम के जरिए दी गई है। पुलिस ने एफआईआर दर्ज करने के बाद मामले की जांच शुरु कर दी है। 

युवती का चलती गाड़ी में किया रेप
पुलिस को दी शिकायत के अनुसार, पीड़िता ने कहा वह चार लोग थे, जिनके चेहरे पर नकाब था। लेकिन युवती एका नकाब निकालने में कामयाब रही। पीड़िता ने कहा-सभी आरोपी एक ही परिवार के हैं। जो उसके मुहल्ले में ही रहते हैं। आरोपियों ने पहले युवती का चलती गाड़ी बलात्कार किया फिर उसको घर के पास छोड़कर चले गए। 

रावड़ी देवी और तेजस्‍वी यादव ने सीएम को घेरा
इस मामले के लेकर बिहार की पूर्व मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी और उनके बेटा तेजस्‍वी यादव ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज ही नहीं बची है। आए दिन राज्य में हत्या और रेप के मामले सामने आ रहे हैं।

क्या था मामला
बता दें कि मुजफ्फरपुर में गैर सरकारी संगठन द्वारा संचालित इस आश्रय गृह में 34 लड़कियों का कथित रूप से यौन शोषण हुआ था और टिस की एक रिपोर्ट के बाद इस आश्रय गृह में रहने वाली लड़कियों के यौन शोषण की गतिविधयां सामने आयी थीं। इसके बाद से ही आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। इस मामले की चर्चा पूरे देश में हुई थी। इसके बाद राज्य सरकार ने इसकी जांच सीबीआई को सौंप दी थी।
 
 



 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios