Asianet News HindiAsianet News Hindi

NRC और CAB के विरोध में धरने पर बैठे तेजस्वी, बोले- भूत के डर से मकान नहीं छोड़ते

एनआरसी और नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में राजद नेता तेजस्वी यादव पटना में धरने पर बैठ गए हैं। उनके साथ अन्य राजद नेता भी शामिल है। तेजस्वी ने कहा कि हम इस बिल के विरोध में आखिरी सांस तक लड़ेंगे।

tejashwi yadav and other rjd leader sitting on protest against nrc and cab
Author
Patna, First Published Dec 11, 2019, 2:09 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना। नागरिकता संशोधन बिल ( CAB) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन ( NRC) के खिलाफ विपक्षी दलों के निशाने पर आई एनडीए सरकार के खिलाफ बुधवार को पटना से भी विरोध के सुर तेज हुए। राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव अपने समर्थकों के साथ इन दोनों के विरोध में बुधवार को पटना के जेपी गोलंबर पर धरने पर बैठ गए। उन्होंने कहा कि सीएबी असंवैधानिक है। भारतीय संविधान में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि देश को धर्म के नाम पर विभाजित नहीं किया जा सकता। इस मौके पर उन्होंने जदयू को भी आड़े हाथों लिया। तेजस्वी ने कहा कि कैब के विरोध में जदयू के कुछ नेताओं का विरोध नाटक का हिस्सा है। नीतीश जी ने सत्ता के लिए बिल का समर्थन कर समझौता कर लिया है।

ट्वीट कर लिखा- हम आखिरी सांस तक लड़ेंगे
तेजस्वी के धरने में राजद विधायक भोला यादव, भाई वीरेंद्र सहित कई अन्य कार्यकर्ता मौजूद हैं। धरने पर से ही तेजस्वी ने एक ट्वीट भी किया है। जिसमें उन्होंने शायराना अंदाज में भाजपा पर तंज किया है। तेजस्वी ने लिखा कि वो चाहते हैं कि हिंदोस्तान छोड़ दें हम, बताओ भूत के डर से मकान छोड दें हम। इसके बाद तेजस्वी ने लिखा कि मनुस्मृति को मानने वाले आज मुसलमानों के विरुद्ध बिल ला रहे है, कल सिक्खों, ईसाईयों, दलितों,आदिवासियों, पिछड़ों के साथ-साथ तमाम क्षेत्रीय दलों के वजूद को मिटाने का षड्यंत्र रचेंगे। हम आख़िरी सांस तक लड़ेंगे।

भाजपा को झेलना पड़ रहा था तीखा विरोध
बताते चले कि कैब और एनआरसी के मामले पर भाजपा को तीखा विरोध झेलना पड़ रहा है। पूर्वोत्तर के राज्यों में भाजपा के खिलाफ बड़ी संख्या में लोगों ने विरोध किया। गुवाहटी में बड़ी मशाल रैली निकाली गई। जिसके समर्थन में देश के अलग-अलग शहरों में भी कैब की प्रतियों को जलाकर विरोध झेलना पड़ रहा है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios