Asianet News HindiAsianet News Hindi

गजब: लूट के गहने खपाने के लिए लूटेरों ने खोल ली थी ज्वेलरी शॉप, पुलिस रेड में हुए और भी चौकाने वाले खुलासे

बिहार में पुलिस ने ऐसे आरोपी गैंग को पकड़ने  में सफलता हासिल की है। जिन्होंने चोरी का माल खपाने के लिए खुद की ही दुकान खोल कर बैठ गए। और वहां चोरी किए सभी गहने, ज्वेलरी सजा दी। पुलिस रेड में और भी अहम जानकारी सामने आ सकती है।

Vaishali news robbers open jewelry shop to sell looted gold asc
Author
First Published Sep 13, 2022, 10:55 AM IST

वैशाली: लूट के गहने खपाने के लिए अपराधियों के ये तरकीब आपको चौंका देगी। आम तौर पर लूट का गहना खपाने के लिए लूटेरे किसी ज्वेलरी शॉप में जाकर गहना बेचतें हैं। लेकिन बिहार में लूट के गहने खपाने के लिए एक गजब का मामला सामने आया है। लूट के गहने खपाने के लिए लूटेरों ने ज्वेलरी शॉप ही खोल डाली। पुलिस जब वहां रेड करने गई तो एक लॉकर में गहने तो दूसरे लॉकर में हथियार मिले। इस दौरान पुलिस ने फर्जी ज्वेलरी शॉप से 2.7 किलो सोना, 27.30 किलो चांदी और 43 हजार रुपए नगद बरामद किया। तीन लूटेरों को भी मौके से गिरफ्तार किया गया। लुटेरों ने समस्तीपुर में लूट का गहना बेचने के लिए ज्वेलरी शॉप खोला था। जिसका भंडाफोड़ वैशाली पुलिस ने किया है। 

ढाई महीने पहले वैशाली में ज्वेलरी शॉप से हुई थी लूट
ढाई माह पहले 2 जून को वैशाली में श्री कृष्णा ज्वेलर्स नामक ज्वेलरी शॉप से हथियारबंद अपराधियों ने पांच किलो सोना, 100 किलो चांदी, 50 लाख के अन्य जेवरात और दो लाख रुपए कैश की लूट की थी। इस मामले में पुलिस कई आरोपियों को पूर्व में गिरफ्तार कर चुकी थी। लेकिन लूट का माल नहीं मिला था। अब पांच अन्य गिरफ्तारी के बाद पुलिस इस मामले में कुल 14 लूटेरों को गिरफ्तार कर चुकी है। इस मामले के खुलासे के लिए एसआईटी का गठन किया गया था। करीब ढाई माह बाद पुलिस को इसमें सफलता मिली। 

करीब एक माह से खोल रखा था ज्वेलरी शॉप
लूट का गहना बेचने के लिए लूटेरों ने समस्तीपुर में करीब एक माह से ज्वेलरी शॉप खोल रखा था। धीरे-धीरे लूट का माल अपराधी बेच रहे थे। पुलिस को इस बात की भनक लगी तो पुलिस वहां रेड करने गई। मौके से गिरोह के सरगना समस्तीपुर निवासी चंदन कुमार साह उर्फ चंदन सोनार, अरुण पोद्दार, विक्की कुमार को गिरफ्तार किया। एसपी मनीष ने बताया कि श्री कृष्णा ज्वेलर्स शॉप में लूट की साजिश समस्तीपुर में रची गई थी। चंदन सोना ने ही जेल से निकलने के बाद लूट का प्लाना तैयार किया था। लूट की घटना को अंजाम देने के लिए मई माह से ही लूटेरे श्री कृष्णा ज्वेलर्स शॉप की रेकी कर रहे थे। मुख्य सरगना चंदन सोनार लाइनर की भूमिका में था।

यह भी पढ़े- झारखंड के गुमला का मामला: लड़का-लड़की राजी, फिर पिता ने क्यों नहीं मानी बात, जानें पूरा मामला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios