Asianet News Hindi

78 साल के अमिताभ ने मोतियाबिंद हटवाने के लिए करवाई लेजर सर्जरी, इस दिन मिलेगी अस्पताल से छुट्टी

शनिवार रात से ही अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की तबीयत को लेकर चिंता में डूबे उनके चाहनेवालों के लिए राहतभरी खबर है। बिग बी सोमवार को अपने घर पहुंच जाएंगे। एंटरटेनमेंट पोर्टल बॉलीवुड हंगामा की रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमिताभ के एक दोस्त ने बताया है कि उनकी आंख से मोतियाबिंद हटाने के लिए एक छोटा लेजर ऑपरेशन किया गया है।

Amitabh Bachchan health update and undergoes laser eye surgery KPG
Author
Mumbai, First Published Feb 28, 2021, 8:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई। शनिवार रात से ही अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की तबीयत को लेकर चिंता में डूबे उनके चाहनेवालों के लिए राहतभरी खबर है। बिग बी सोमवार को अपने घर पहुंच जाएंगे। एंटरटेनमेंट पोर्टल बॉलीवुड हंगामा की रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमिताभ के एक दोस्त ने बताया है कि उनकी आंख से मोतियाबिंद हटाने के लिए एक छोटा लेजर ऑपरेशन किया गया है। फिलहाल 24 घंटे तक वे डॉक्टर्स की निगरानी में रहेंगे और सोमवार को डिस्चार्ज होकर अपने घर लौट जाएंगे। बता दें कि शनिवार रात करीब सवा 10 बजे अमिताभ ने ब्लॉग पर लिखा था- मेडिकल कंडीशन...सर्जरी...नहीं लिख सकता। अमिताभ के इतना लिखते ही दुनियाभर में उनके फैन्स फिक्रमंद हो गए थे। 

 

यहां तक कि अमिताभ के ब्लॉग पर ही कमेंट कर लोग उनकी सलामती की दुआ मांगने लगे। एक शख्स  ने लिखा- सर अपना ध्यान रखिए। आप जल्द स्वस्थ होंगे। वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा- हम आपके जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना करते हैं। बता दें कि पिछले साल जुलाई में अमिताभ बच्चन, उनके बेटे अभिषेक, बहू ऐश्वर्या और पोती आराध्या कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे। पूरे परिवार को मुंबई के नानावटी अस्पताल में हफ्तों तक भर्ती रहना पड़ा था। 

करीब 22 दिन अस्पताल में रहने के बाद अमिताभ ने कोरोना को हरा दिया था और पूरी तरह ठीक होकर घर लौटे थे। वहीं, उनके बेटे अभिषेक बच्चन को 28 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहना पड़ा था। हालांकि ऐश्वर्या और आराध्या 10 दिन में ही अस्पताल से डिस्चार्ज होकर घर लौट आए थे। 

 

बता दें कि अमिताभ बच्चन को कुछ साल पहले हेपेटाइटिस-बी हुआ था, जिसके चलते उनका 75 फीसदी लिवर खराब हो चुका है। दरअसल, फिल्म 'कुली' के दौरान अमिताभ को लगी चोट बेहद खतरनाक थी। इसकी वजह से कुछ साल पहले उनके पेट में प्रॉब्लम हुई थी। बाद में पता चला कि उन्हें डाइवर्टिक्युलाइटिस ऑफ स्मॉल इंटेस्टाइन नाम की बीमारी है। इसे ठीक करने के लिए अमिताभ ने सर्जरी करवाई थी। इसकी वजह से कई बार उनके पेट में तेज दर्द और पाचन तंत्र में गड़बड़ी पैदा हो जाती है।

<p><strong>37 साल पहले हुई थी बड़ी लापरवाही :&nbsp;</strong><br />
1983 में आई फिल्म 'कुली' के एक सीन में पुनीत इस्सर के साथ फाइट सीन में अमिताभ बुरी तरह घायल हो गए थे। अंदरूनी ब्लीडिंग के कारण बिग-बी के शरीर में खून की काफी कमी हो गई थी। उन्हें खून चढ़ाने के लिए आनन-फानन में करीब 200 डोनर्स से 60 बोतल ब्लड लिया गया था। इसी दौरान हुई लापरवाही से एक हेपेटाइटिस-बी से संक्रमित व्यक्ति का खून उनको चढ़ा दिया गया था, जिसके बाद वे भी हेपेटाइटिस-बी से संक्रमित हो गए थे।</p>

अमिताभ बच्चन को फिल्म इंडस्ट्री में 52 साल हो चुके हैं। 15 फरवरी साल 1969 में अमिताभ बच्चन ने फिल्मों की दुनिया में कदम रखा था। उन्होंने मृणाल सेन की फिल्म 'भुवन शोम' में एक वॉयस नैरेटर के तौर पर डेब्यू किया था। इसके बाद उन्होंने एक से बढ़कर एक हिट फिल्में दी हैं।

Amitabh Bachchan falls ill while shooting for Thugs of Hindostan

वर्कफ्रंट की बात करें तो अमिताभ बच्चन कुछ दिनों पहले अजय देवगन के डायरेक्शन में बन रही फिल्म 'मे डे' की शूटिंग कर रहे थे। अमिताभ आखिरी बार 'गुलाबो सिताबो' में नजर आए थे, जो 12 जून, 2020 को OTT प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई थी। बिग बी जल्द ही 'चेहरे', 'झुंड', 'ब्रह्मास्त्र' और 'बटरफ्लाई' जैसी फिल्मों में दिखेंगे। 

Amitabh Bachchan looks almost unrecognisable in Gulabo Sitabo

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios