मुंबई. कोरोना काल में भारत में प्रवासियों पर लॉकडाउन का असर देखने के लिए मिला। देश के कोने-कोने से वो अपने घरों की ओर पैदल ही जाने के लिए मजबूर हुए। ऐसे में बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद ने उनकी मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया और बसों, फ्लाइट्स के जरिए लोगों को घर भिजवाया। ऐसे में अब अमिताभ बच्चन भी प्रवासियों को घर भेजने के लिए आगे हैं और उन्होंने उत्तर प्रदेश के प्रवासियो को घर भेजने के लिए 6 फ्लाइट्स का इंतेजाम किया है, जिसमें से तीन फ्लाइट्स उन्होंने वाराणसी के मजदूरों के लिए बुक की हैं। 

पहली फ्लाइट भर चुकी है उड़ान 

अमिताभ ने वाराणसी के 500 मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने के तीन फ्लाइट बुक की हैं। बताया जा रहा है कि पहली फ्लाइट बुधवार सुबह 180 मजदूरों को लेकर उड़ान भर चुकी है। बाकी दो फ्लाइट भी बुधवार को ही रवाना होंगी। इनके बारे में अभी ज्यादा जानकारी सामने नहीं आई है। रिपोर्ट्स की मानें तो यह पूरा काम अमिताभ बच्चन की कंपनी एबी कॉर्पोरेशन लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर राजेश यादव और उनके सहयोगियों की निगरानी में हो रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से लिखा जा रहा है कि सब कुछ बहुत ही सावधानी के साथ किया जा रहा है, क्योंकि अमिताभ पब्लिसिटी नहीं चाहते थे। प्रवासी मजदूरों की दुर्दशा देखकर वो खुद को रोक नहीं पाए और उन्होंने मदद के लिए आगे आने का फैसला लिया।

Amitabh Bachchan defensive about shooting for 'Kaun Banega ...

1080 लोग पहुंच पाएंगे अपने घर 

कोरोना महामारी के बीच लॉकडाउन हो जाने से हजारों लोग दूसरे शहरों में फंस गए हैं। सोनू सूद फंसे लोगों को घर पहुंचाकर मसीहा बन चुके हैं। अब अमिताभ बच्चन भी इस नेक काम के लिए आगे आए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि उन्होंने उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए 6 चार्टर्ड फ्लाइट की व्यवस्था की है। हर फ्लाइट्स से 180 लोगों को उनके शहर पहुंचाया जाएगा। ये फ्लाइट्स लखनऊ, गोरखपुर और वाराणसी के लिए हैं। इस तरह वह 1080 लोगों को फ्लाइट से घर भेजा जाएगा।

पहले ट्रेन भेजना चाहते मजदूरों को 

अमिताभ बच्चन 10 बसों से भी लोगों को घर भेज चुके हैं। उन्होंने माहिम दरगाह और हाजी अली दरगाह ट्रस्ट के सहयोग से इन बसों से लखनऊ, इलाहाबाद, गोरखपुर, भदोही आदि के मजदूरों को घर भेजा है। साथ ही वह ट्रस्ट के साथ मिलकर यूपी के लिए एक ट्रेन की व्यवस्था भी करना चाहते थे, जिससे ज्यादा तादाद में मजदूरों को घर पहुंचाया जा सके।

इससे पहले भी अमिताभ जारी किए थे राहत कार्य

खबरों की मानें तो अमिताभ बच्चन का ऑफिस पिछले दो महीने से लगातार राहत कार्य में जुटा है। एबी कॉर्पोरेशन लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर राजेश यादव उनकी ओर से जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं। यादव हाजी अली ट्रस्ट और पीर मखदूम साहब ट्रस्ट की सहायता से हर दिन 4500 से ज्यादा फूड पैकेट्स हाजी अली दरगाह, एंटॉप हिल, बाबुलनाथ मंदिर, महिम दरगाह, धारावी, सायन 90 फीट रोड, अरब गली, कोसला बंदर और वरली लोटस समेत मुंबई की अलग-अलग जगहों पर बंटवा रहे हैं।

बिग बी के ऑफिस ने एक हजार परिवारों के लिए 1000 राशन पैकेट्स भी उपलब्ध कराए हैं, जो हर परिवार के लिए एक महीने तक पर्याप्त होगा। यह सेवा सिर्फ गरीब और जरूरतमंद परिवार के लिए है। इसके अलावा 9 मई से वो और उनकी टीम राशन के 2000 पैकेट्स, पानी की 2000 बोतलें और लगभग 1200 जोड़ी स्लीपर्स उन प्रवासी मजदूरों के लिए हर दिन उपलब्ध करा रहे हैं, जो मुंबई से अपने घर जा रहे हैं।

अमिताभ के ऑफिस ने अलग-अलग एजेंसीज और लोकल अथॉर्टीज के साथ मिलकर अनगिनत मास्क, सैनेटाइजर्स भी बांटे गए हैं। उन्होंने अस्पतालों, पुलिस स्टेशन्स, बीएमसी के ऑफिस और अंतिम संस्कार की जगहों पर 20 हजार से ज्यादा पीपीई किट्स भी दान किए हैं।