Asianet News HindiAsianet News Hindi

Kangana Ranaut की सफाई फिर लगाएंगी 'आग', महात्मा गांधी पर खड़े कर दिए कई सवाल

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने आजादी भीख में मिलने वाले बयान को लेकर सफाई दी है। कंगना ने कहा कि अगर उन्हें गलत साबित किया जाता है तो वो अपना पद्मश्री वापस कर देंगी। इसके साथ ही माफी भी मांग लेंगी। एक्ट्रेस ने बचाव में जो तर्क दिए हैं वो भी हैरान करने वाला है। उन्होंने महात्मा गांधी पर कई सवाल खड़े कर दिए। 
 

Kangana ranaut defends her statement of freedom remark says will return padmshri NTP
Author
Mumbai, First Published Nov 13, 2021, 4:54 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. कंगना रनौत (Kangana Ranaut) को 'कंट्रोवर्सी क्वीन' कहा जाए तो गलत नहीं होगा। पहले विवादों से भरा बयान देने, फिर लोगों के निशाने पर आना और उसके बाद उन सब पर पलटवार करना रनौत ने अपनी आदत में शामिल कर लिया है। आजादी को भीख बताकर ट्रोल हो रही 'पंगा' गर्ल ने उसका जवाब दिया है। लेकिन एक्ट्रेस  की यह सफाई भी कंट्रोवर्सी पैदा कर सकती है। कंगना ने अपने सफाई में गांधी जी पर सवाल खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि क्यों गांधी ने भगत सिंह को मरने दिया। इसके अलावा भी कई सवाल उन्होंने राष्ट्रपति पर उठाए हैं। 

दरअसल, कंगना ने एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा था कि 1947 में मिली आजादी भीख थी। भारत को 2014 में आजादी मिली थी जब नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार सत्ता में आई। कंगना के इस बयान पर विपक्षी दलों के नेताओं ने निशाना साधा। उनसे पद्मश्री वापस लेने की मांग करने लगे, साथ ही देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की भी मांग की। 

'1947 में कौन सा युद्ध हुआ था'

इस पर कंगना ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट पर सफाई देते हुए कहा कि मैंने इंटरव्यू में बहुत कुछ साफ कर दिया था।  1857 में स्वतंत्रता के लिए पहली सामूहिक लड़ाई रानी लक्ष्मीबाई,सुभाष चंद्र बोस,और वीर सावरकर जी जैसे महान लोगों के बलिदान के साथ शुरू हुई। 1857 की लड़ाई मुझे पता है, लेकिन 1947 में कौन सा युद्ध हुआ था, मुझे पता नहीं है।  उन्होंने आगे कहा कि अगर कोई मुझे बता सकता है तो मैं अपना पद्मश्री वापस कर दूंगी और माफी भी मांगूंगी। कृपया इसमें मेरी मदद करें।

Kangana ranaut defends her statement of freedom remark says will return padmshri NTP

गांधी जी पर भी कंगना ने उठाए सवाल

उन्होंने आगे लिखा कि मैंने झांसी की रानी लक्ष्मी बाई पर बनी फीचर फिल्म में काम किया है। 1857 की लड़ाई पर काफी रिसर्च किया है। वो आगे कहती हैं , 'राष्ट्रवाद के साथ दक्षिणपंथ का भी उभार हुआ लेकिन यह अचानक खत्म कैसे हो गया? '  इतना ही नहीं उन्होंने इस पोस्ट में गांधी जी पर भी सवाल खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि गांधीजी ने भगत सिंह को क्यों मरने दिया। आखिर क्यों नेता बोस की हत्या हुई और उन्हें कभी गांधी जी का सपोर्ट नहीं मिला। 

कंगना ने लंबे पोस्ट लिखकर विरोधियों को जवाब दिया। उन्होंने आगे कहा कि आखिर क्यों बंटवारे की रेखा एक अंग्रेज के द्वारा खींची गई? आजादी की खुशियां मनाने के बजाय भारतीय एक दूसरे को मार रहे थे। मुझे ऐसे कुछ सवालों के जवाब चाहिए जिसके लिए मुझे मदद की जरूरत है। 

कंगना ने विरोधियों पर किया वार

एक्ट्रेस आगे कहती हैं कि जहां तक 2014 में आजादी की बात है, मैंने विशेष रूप से कहा था कि भौतिक आजादी हमारे पास हो सकती है, पहली बार अंग्रेजी न बोलने या छोटे शहरों से आने या भारत में बने उत्पादों का उपयोग करने के लिए लोग हमें शर्मिंदा नहीं कर सकते। जो चोर हैं उनकी तो जलेगी। कोई बुझा नहीं सकता... जय हिंद।

कंगना के खिलाफ कई केस दर्ज

कंगना के इस पोस्ट पर भी बवाल मचना तय है। लेकिन बता दें कि सोशल मीडिया पर यूजर कंगना से पद्मश्री वापस लेने की मांग कर रहे हैं। #KanganaRanautDeshdrohi टॉप ट्रेंडिंग में बना हुआ है। कंगना पर कई केस भी दर्ज हो चुके हैं। इससे पहले भी कंगना पर आरक्षण पर पोस्ट डालने को लेकर देशद्रोह का केस दर्ज हो चुका है। 

और पढ़ें:

ALIA BHATT के फोन स्क्रीन पर हैं RANBIR KAPOOR की तस्वीर, शादी को लेकर एक्ट्रेस ने दिया ये रिएक्शन

Swara Bhaskar की नौकरानी से जब की गई तुलना, तो एक्ट्रेस ने प्यार से ट्रोलर को किया शर्मिंदा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios