Budget 2022: Make in India बढ़ावा देने के लिए 350 सामानों से वापस ली कस्‍टम ड्यूटी

| Feb 02 2022, 04:24 PM IST

Budget 2022: Make in India बढ़ावा देने के लिए 350 सामानों से वापस ली कस्‍टम ड्यूटी

सार

Budget 2022: केंद्र सरकार ने सीमा शुल्क (Custom Duty) छूट नोटिफ‍िकेशंस की व्यापक समीक्षा की है। लगभग 350 छूट वापस ली जा रही हैं।  बजट में कैपिटल गुड्स और प्रोजेक्‍ट्स इंपोर्ट (Capital Goods and Projects Import) पर सीमा शुल्क छूट की समीक्षा करने का भी प्रस्ताव है और 40 से अधिक सीमा शुल्क छूट को धीरे-धीरे समाप्त किया जाएगा।

 

Budget 2022: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने 350 से अधिक सीमा शुल्क छूट (Customs Duty) वापस लेकर घरेलू मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर को बड़े पैमाने पर बढ़ावा दिया है। केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBIC) ने कहा कि केंद्र सरकार ने सीमा शुल्क छूट नोटिफ‍िकेशंस की व्यापक समीक्षा की है। लगभग 350 छूट वापस ली जा रही हैं।  बजट में कैपिटल गुड्स और प्रोजेक्‍ट्स इंपोर्ट पर सीमा शुल्क छूट की समीक्षा करने का भी प्रस्ताव है और 40 से अधिक सीमा शुल्क छूट को धीरे-धीरे समाप्त किया जाएगा।

350 से अधिक सामानों से वापस ली कस्‍टम ड्यूटी
निर्मला सीतारमण ने बजट पेश करते हुए कहा कि इन्फ्रा खर्च पर बड़ा दांव लगाया गया है। उन्‍होंने कहा कि पिछले दो बजटों में हमने कई सीमा शुल्क छूटों को युक्तिसंगत बनाया है। हमने एक बार फिर व्यापक परामर्श किया है, जिसमें क्राउड सोर्सिंग भी शामिल है और इन परामर्शों के परिणामस्वरूप 350 से अधिक डिस्‍काउंट एंट्रीज को धीरे-धीरे समाप्त करने का प्रस्ताव है।  बजट में कई सामानों पर सीमा शुल्क दर को युक्तिसंगत बनाया गया है। कैपिटल गुड्स और प्रोजेक्‍ट्स इंपोर्ट शुल्क को रियायती दरों को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करके और 7.5 फीसदी की एक मध्यम टैरिफ लागू करके युक्तिसंगत बनाया गया है। हालांकि, देश के भीतर निर्मित ना होने वाली उन्नत मशीनरी के लिए छूट जारी रहेगी।

Subscribe to get breaking news alerts

इलेक्ट्रॉनिक्स आयटम्‍स पर आयात शुल्‍क
इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र के लिए, पहनने योग्य उपकरणों, सुनने योग्य उपकरणों और इलेक्ट्रॉनिक स्मार्ट मीटर पर सीमा शुल्क दरों को स्‍टैंडर्डाइज्‍ड किया जा रहा है। मोबाइल फोन चार्जर्स के ट्रांसफार्मर के पुर्जों और मोबाइल कैमरा मॉड्यूल के कैमरा लेंस पर शुल्क रियायतों में कमी की गई है। साथ ही, सुनने योग्य और कलाई में पहनने योग्य उपकरणों और उनके इनपुट/पार्ट्स/सब-पार्ट्स पर मूल सीमा शुल्क चरणबद्ध तरीके से बढ़ाया जाएगा।

रत्‍न और आभूषण पर सीमा शुल्‍क कम किया
रत्न और आभूषण क्षेत्र में, कटे और पॉलिश किए गए हीरे और रत्नों पर सीमा शुल्क 7.5 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी कर दिया गया है। किम्बरली प्रोसेस सर्टिफिकेशन स्कीम (केपीसीएस) के तहत आयातित सिंपल सावन डायमंड पर शून्य सीमा शुल्क लगेगा। नकली आभूषणों पर 20 फीसदी या 400 रुपए प्रत‍ि किलोग्राम जो भी अधिक हो, की मूल सीमा शुल्क दर लागू होगी।

यह भी पढ़ें

Cryptocurrency Price, 2 Feb, 2022: Cryptocurrency Tax की घोषणा के बाद कितने हुए बिटकॉइन के दाम, जानिए यहां

Budget 2022: एनपीएस पर घोषणा से राज्‍य सरकार कर्मचारियों के पेंशन फंड में होगा मोटा इजाफा, समझें कैलकुलेशन

Budget 2022: सरकार ने इनकम टैक्‍स में किए यह पांच बदलाव, विस्‍तार से समझें यहां

 
Read more Articles on