Asianet News HindiAsianet News Hindi

कोरोना संकट के बीच विश्वनाथन ने RBI को कहा अलविदा, खराब स्वास्थ्य का दिया हवाला

वह ऐसे समय पद से हटे हैं जब केंद्रीय बैंक और देश के लिये कोरोना वायरस महामारी के कारण कठिन घड़ी है। स्वास्थ्य बिगड़ने का हवाला देते हुए 62 साल के विश्वनाथन ने छह मार्च को केंद्रीय बैंक से इस माह के अंत तक उन्हें पद से मुक्त करने का आग्रह किया था।

Amidst Corona crisis, Vishwanathan said goodbye to RBI, cited poor health kpm
Author
Mumbai, First Published Mar 31, 2020, 10:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. रिजर्व बैंक के वरिष्ठ डिप्टी गवर्नर एस विश्वनाथन खराब स्वास्थ्य की वजह से मंगलवार को आरबीआई को अलविदा कह दिया। वह सेवा विस्तार समाप्त होने से तीन महीने पहले ही पद से हट गये। वह 39 वर्ष तक आरबीआई से जुड़े रहे।
 

विश्वनाथन ने पद से मुक्त करने का आग्रह किया था

वह ऐसे समय पद से हटे हैं जब केंद्रीय बैंक और देश के लिये कोरोना वायरस महामारी के कारण कठिन घड़ी है। स्वास्थ्य बिगड़ने का हवाला देते हुए 62 साल के विश्वनाथन ने छह मार्च को केंद्रीय बैंक से इस माह के अंत तक उन्हें पद से मुक्त करने का आग्रह किया था।

1981 में RBI से जुड़े थे

विश्वनाथन का जन्म केरल में मध्यम परिवार में जून 1958 को हुआ था। उन्होंने बेंगलोर विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में पोस्ट ग्रेजुएट किया। उन्होंने नवंबर 1981 में ग्रेड बी अधिकारी के रूप में आरबीआई से जुड़े और 28 जून 2016 को डिप्टी गवर्नर बनें। उस समय गवर्नर रघुराम राजन थे। उनके पास बैंक निगरानी से जुड़े सभी महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी थी।

पिछले साल सेवा विस्तार मिला था

उन्होंने पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल और मौजूदा गवर्नर शक्तिकांत दस की अगुवाई में काम किये। उन्होंने पिछले साल तीन जुलाई 2020 तक के लिसे सेवा विस्तार मिला था।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव)

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios