Asianet News HindiAsianet News Hindi

कोरोना वायरस का कारोबार पर बुरा असर! पांच प्रतिशत तक गिरे अमेरिका के शेयर बाजार

अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व के नीतिगत ब्याज दर में दूसरी आपातकालीन कटौती करने के बाद अमेरिकी शेयर बाजार वायदा कारोबार में पांच प्रतिशत तक गिर गये

Corona virus affected world economy american market crash by 5 percentage kpm
Author
New Delhi, First Published Mar 16, 2020, 1:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

न्यूयॉर्क: अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व के नीतिगत ब्याज दर में दूसरी आपातकालीन कटौती करने के बाद अमेरिकी शेयर बाजार वायदा कारोबार में पांच प्रतिशत तक गिर गये।

इसके अलावा अमेरिकी सरकार तथा कुछ कंपनियों द्वारा एहतियाती कदम उठाने से भी बाजार की धारणा प्रभावित हुई। रविवार की रात एसएंडपी 500 का वायदा पांच प्रतिशत गिर गया। इसके कारण कारोबार को बीच में ही रोकना पड़ा। डाउ जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज का वायदा भी 1,040 अंक यानी 4.6 प्रतिशत गिर गया।

दो हजार अंक से अधिक की गिरावट

इस बीच कच्चा तेल में करीब दो प्रतिशत की गिरावट आयी, जबकि सोना 1.2 प्रतिशत चढ़ गया। पिछले सप्ताह डाउ जोन्स में दो बार दो हजार अंक से अधिक की गिरावट देखी गयी। हालांकि शुक्रवार को इसमें 1,985 अंक की सबसे बड़ी एकदिनी बढ़त भी दर्ज की गयी। यूरोपीय बाजारों में भी पिछले सप्ताह इसी तरह की उथल-पुथल देखने को मिली।

फेडरल रिजर्व ने कोरोना वायरस के अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले असर को दूर करने तथा निवेशकों का भरोसा कायम रखने के लिये रविवार को नीतिगत ब्याज दर में शून्य से 0.25 प्रतिशत तक की कटौती की। यह दो सप्ताह से भी कम समय में फेडरल रिजर्व द्वारा नीतिगत ब्याज दर में की गयी दूसरी आपातकालीन कटौती है। इस दूसरी कटौती के बाद अमेरिका में नीतिगत ब्याज दर 2008 के आर्थिक संकट के समय के स्तर पर आ गयी है।

विमानन कंपनियों ने उड़ानों में कटौती करने की घोषणा की

फेडरल रिजर्व ने कहा कि कोरोना वायरस के कारण अर्थव्यवस्था को लेकर भरोसे में आयी गिरावट की जब तक भरपाई नहीं हो जाती है, नीतिगत ब्याज दर को इसी स्तर पर बनाये रखा जाएगा।

इस बीच अमेरिका की विमानन कंपनियों ने उड़ानों में कटौती करने की घोषणा की है। विमानन कंपनी अमेरिकन एयरलाइंस ने कहा कि वे अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की क्षमता में 75 प्रतिशत की कटौती करने वाले हैं। उसने कहा, ‘‘यह कटौती छह मई तक अमल में रहेगी। यह मांग में कमी तथा अमेरिकी सरकार द्वारा यात्रा पर लगायी गयी रोक को लेकर है।’’ कंपनी ने घरेलू सेवाओं में भी साल भर पहले की तुलना में 20 प्रतिशत की कटौती करने की घोषणा की है।

यूरोप की उड़ानों में बड़ी कटौती

प्रतिस्पर्धी कंपनी डेल्टा ने भी कहा कि वह सोमवार (16 मार्च) से यूरोप की उड़ानों में बड़ी कटौती कर रही है। साउथवेस्ट एयरलाइंस ने भी मांग में आयी कमी को लेकर उड़ानें घटाने की घोषणा की है। जेपी मॉर्गन चेस ने अमेरिका की अर्थव्यवस्था के आकार में सालाना आधार पर चालू तिमाही में दो प्रतिशत तथा जून तिमाही में तीन प्रतिशत की गिरावट आने का अनुमान व्यक्त किया है।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios