Asianet News HindiAsianet News Hindi

Netflix और Amazon Prime का मजा हो सकता है किरकिरा, COAI ने जारी किया ये निर्देश

सेल्यूलर मोबाइल सेवा नेटवर्क कंपनियों के संगठन सीओएआई ने सरकार से कोरोना महामारी से निपटने के प्रयासों के मद्देनजर नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम वीडियो और ऐसी अन्य वीडियो सामग्री बेचने वाली कंपनियों से नेटवर्क पर दबाव कम करने का निर्देश तत्काल जारी करने का आग्रह किया है

Corona virus COAI asks companies with video streaming platform to reduce unnecessary pressure on network kpm
Author
New Delhi, First Published Mar 22, 2020, 8:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली: सेल्यूलर मोबाइल सेवा नेटवर्क कंपनियों के संगठन सीओएआई ने सरकार से कोरोना महामारी से निपटने के प्रयासों के मद्देनजर नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम वीडियो और ऐसी अन्य वीडियो सामग्री बेचने वाली कंपनियों से नेटवर्क पर दबाव कम करने का निर्देश तत्काल जारी करने का आग्रह किया है।

सीओएआई का कहना है कि इस समय लोगों पर निकलने बढने की पाबंदियों और क्वैरंटाइन (संग-निरोध) जैसे उपायों के चलते वीडियो सामग्री कंपनियों से वीडियो कंटेंट की मांग बढ़ गयी है और इसका नेटवर्क पर दबाव है। संगठन का कहना है कि इस समय ‘बहुत जरूरी’ कामों के लिए नेटवर्क की जरूरत है।

वीडियो कंटेंट की मांग अचानक बढ़ने के आसार

सीओएआई ने दूरसंचार सचिव अंशु प्रकाश को पत्र लिख कर कहा है कि देश के विभिन्न भागों में लोगों के आने-जाने पर लागू पाबंदियों और पृथक रखे जाने जैसे उपायों के चलते आनलाइन वीडियो कंटेंट की मांग अचानक बढ़ने के आसार हैं।

संगठन ने आनलाइन वीडियो सामग्री बेचने वाली कंपनियों से भी इस विषय में संपर्क किया है। उसने कहा है कि वीडियो स्ट्रीम बढ़ने से नेटवर्क पर दबाव बढ़ गया है। ऐसे में उन्हें थोड़े समय के लिए एसडी (स्टैंडर्ड डेफिनिशन) रुप की जगह एचडी (हाई डेफिनिशन) रुप के वीडियो स्ट्रीम जैसे कदम उठाने चाहिए।

वायरस के प्रति जागरूकता वाले कंटेंट दिखाने चाहिए

सीओएआई ने वीडियो स्ट्रीम कंपनियों से नेटवर्क पर ज्यादा जगह लेने वाली विज्ञापन सामग्री और पॉप-अप की जगह वायरस के प्रति जागरूकता कंटेंट दिखानी चाहिए। सीओएआई ने कहा है कि इस नाजुक समय में यह जरूरी है कि वीडियो सामग्री बेचने वाली कंपनियां दूरसंचार नेटवर्क सेवा देने वाली कंपनियों के साथ पूरा सहयोग करें ताकि नेटवर्क पर बदाव न बढ़े क्यों कि इस समय नेटवर्क की जरूरत बहुत अहम कामों के लिए ज्यादा है।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios