Asianet News Hindi

EPFO ने पिछले 15 दिनों में 10 लाख से ज्यादा क्लेम का किया निपटारा, जारी किए कुल 3,600 करोड़ रुपए

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने पिछले 15 कार्य दिवस में 10.02 लाख निकासी-दावों का निपटान किया और कुल 3,600.85 करोड़ रुपये वितरित किये। इसमें से 6.06 लाख दावों के आवेदन कोरोना वायरस संकट के तहत ईपीएफ से पैसा निकलने की मिली अनुमति के तहत दिये गये

EPFO settled more than 10 lakh claims in last 15 days totaling  3600 crore rupees kpm
Author
New Delhi, First Published Apr 22, 2020, 9:33 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने पिछले 15 कार्य दिवस में 10.02 लाख निकासी-दावों का निपटान किया और कुल 3,600.85 करोड़ रुपये वितरित किये। इसमें से 6.06 लाख दावों के आवेदन कोरोना वायरस संकट के तहत ईपीएफ से पैसा निकलने की मिली अनुमति के तहत दिये गये। 

श्रम मंत्रालय के बयान के अनुसार कोरोना वायरस संकट के तहत आने वाले आवेदनों में से करीब 90 प्रतिशत दावों का निपटान तीन दिन के भीतर कर दिया गया। अंशधारकों इन पैसों को लौटाने की जरूरत नहीं है। 

केंद्र सरकार ने दी थी पैसे निकालने की अनुमति

उल्लेखनीय है कि EPFO ने संकट की घड़ी में जरूरतमंद कामगारों को राहत देने के लिये तीन महीने के मूल वेतन (मूल वेतन जमा महंगाई भत्ता) के बराबर की राशि भविष्य निधि से निकालने की अनुमति दी है। केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस माहमारी में गरीबों और जरूरतमंदों की मदद के लिये प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (पीएमजीकेवाई) की शुरूआत 26 मार्च को की। इसके तहत ईपीएफ योजना से कर्मचारियों को पैसा निकालने की अनुमति देने की घोषणा की गयी। 

इसके लिये तत्काल अधिसूचना जारी की गयी। इसमें कर्मचारियों के कोरोना संकट से पार पाने में मदद के लिये अपने भविष्य निधि खाते में तीन महीने का मूल वेतन या ईपीएफ खाते में जमा राशि का 75 प्रतिशत, जो भी कम हो, निकालने की अनुमति दी गयी है। 

कोरोना वायरस से जुड़े 6.06 लाख दावे

EPFO ने 10.02 लाख दावों का निपटान किया है। इसमें 6.06 लाख दावे कोरोना वायरस से जुड़े हैं। इसके तहत 3,600.85 करोड़ रुपये केवल 15 दिन में वितरित किये गये। मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि लॉकडाउन (बंद) के कारण केवल एक तिहाई कर्मचारियों के काम करने के बावजूद 90 प्रतिशत कोरोना वायरस दावें का निपटान तीन कार्य दिवस में किया गया। 

ऑनलाइन भी निकल सकते हैं पैसे 

ईपीएफओ ने उमंग एप के जरिये भविष्य निधि से पैसा निकालने और अन्य सेवाओं के लिये ऑनलाइन सुविधा प्रदान की है।

निजी पीएफ ट्रस्ट भी आए आगे 

छूट प्राप्त (निजी) पीएफ ट्रस्ट भी आगे आये हैं। ये वे कंपनियां हैं जो कर्मचारियों के भविष्य निधि खाता और पैसे का प्रबंधन स्वयं करती हैं। ऐसे में उन्हें EPFO के पास ईपीएफ रिटर्न भरने की आवश्यकता नहीं होती। बयान के अनुसार छूट प्राप्त पीएफ ट्रस्टों ने 17 अप्रैल 12 बजे से पहले तक 40,826 भविष्य निधि सदस्यों को 68-एल के तहत कोरोना संकट की वजह से दी गयी सुविधा के अंतर्गत 481.63 करोड़ रुपये जारी किये गये। इनमें सबसे अधिक वितरण करने वालों में एनएलसी लि., टीसीएस और विशाखापत्तनम स्टील प्लांट के पीएफ न्यास हैं।

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios