Asianet News HindiAsianet News Hindi

GoAir ने अपनी सारी इंटरनेशनल फ्लाइट कैंसिल की, छुट्टी पर जाएंगे कर्मचारी, नहीं मिलेगा वेतन

सूत्रों ने जानकारी दी कि कंपनी किस्तों में कर्मचारियों के वेतन में 20 प्रतिशत कटौती करने की भी योजना बना रही है। कंपनी ने दिए बयान में कहा कि कोरोना वायरस संकट की सबसे ज्यादा मार विमानन उद्योग पर पड़ी है। क्योंकि कई सरकारों ने यात्रा प्रतिबंध लगाए हैं। 

GoAir canceled all its international flights, Will send employees on leave without pay kpm
Author
Mumbai, First Published Mar 17, 2020, 10:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. घरेलू विमानन कंपनी गोएयर ने कोरोना वायरस संकट के मद्देनजर मंगलवार से अपनी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें निलंबित करने की घोषणा की है। उड़ानों की संख्या में कमी के चलते कंपनी क्रमिक आधार पर अपने कर्मचारियों को बिना वेतन के छुट्टी पर भेजेगी।

कोरोना की सबसे ज्यादा मार विमानन उद्योग पर

सूत्रों ने जानकारी दी कि कंपनी किस्तों में कर्मचारियों के वेतन में 20 प्रतिशत कटौती करने की भी योजना बना रही है। कंपनी ने दिए बयान में कहा कि कोरोना वायरस संकट की सबसे ज्यादा मार विमानन उद्योग पर पड़ी है। क्योंकि कई सरकारों ने यात्रा प्रतिबंध लगाए हैं। लोगों को यात्रा टालने या कम करने के परामर्श जारी किए हैं। कंपनियों ने भी अपने कर्मचारियों के यात्रा को सीमित किया है। विशेष समारोहों की तारीखें भी खिसकायी जा रही हैं।

कंपनी ने 17 मार्च से 15 अप्रैल तक सभी अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट कैंसिल की

कंपनी ने कहा कि मौजूदा समय में हवाई यातायात में आ रही तेज कमी का उसने पहले कभी अनुभव नहीं किया था। इसे देखते हुए उसने 17 मार्च से 15 अप्रैल तक अपनी सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें निलंबित करने की घोषणा की है। गोएयर कुल 35 शहरों के बीच उड़ान सेवा देती है। इसमें आठ विदेशी स्थल भी शामिल हैं। कंपनी ने अपनी फुकेट, माले, मस्कट, अबू धाबी, दुबई, बैंकॉक, कुवैत और दम्माम की अंतरराष्ट्रीय उड़ानें 15 अप्रैल तक निलंबित कर दी हैं। इन उड़ानों को रद्द करने के बाद कंपनी की दैनिक उड़ानों की संख्या 325 से घटकर 280 रह गयी है।

कर्मचारियों को छुट्टी के दौरान वेतन नहीं दिया जाएगा

बयान के अनुसार कंपनी ने कर्मचारियों को क्रमिक आधार पर अवकाश पर भेजने का फैसला किया है। इन छुट्टियों की अवधि का वेतन नहीं दिया जाएगा। क्रमिक रूप से एक समय कुछ कर्मचारियों को कार्यस्थल से दूर रखा जाएगा। इससे कंपनी को उड़ानों की संख्या में कटौती के असर से निपटने में मदद मिलेगी।’’ कंपनी ने कहा कि वह जानती है कि इससे प्रभावित कर्मचारियों पर वित्तीय बोझ बढ़ेगा। लेकिन उसने इस निर्णय पर पहुंचने के लिए अन्य देशों में कंपनियों द्वारा अपनायी जा रही प्रक्रियाओं का अध्ययन किया है। इसलिए इसे हल्के में नहीं लिया जाना चाहिए।

गोएयर कर्मचारियों के वेतन में 20% की कटौती किस्तों में करेगी

सूत्रों के अनुसार अभी कंपनी की योजना अपने कार्यबल के 35 प्रतिशत को एक महीने के लिए बिना वेतन की छुट्टी पर भेजने की है। इसमें विदेशी हवाईअड्डों पर काम करने वाले कर्मचारी भी शामिल हैं। हवाई यातायात के सामान्य स्तर पर लौटने तक कंपनी को चलाए रखने के लिए गोएयर का किस्तों में कर्मचारियों के वेतन में 20 प्रतिशत की कटौती करने का भी प्रस्ताव है। इसके अलावा कंपनी जल्द ही विदेशी पायलटों की सेवा जारी रखने के बारे में भी फैसला करेगी क्योंकि अधिकतर उड़ानें रद्द होने से उनके पास काम नहीं होगा।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios