Asianet News Hindi

ICICI और HDFC बैंक के बाद AXIS Bank बैंक ने भी दी लोन ईएमआई टालने की सुविधा

ICICIऔर HDFC बैंक के बाद एक्सिस बैंक ने अपने ग्राहकों को अपने टर्म लोन ग्राहकों को ईएमआई तीन महीने तक टाल देने की सुविधा दे दी है

Good News for AXIS Bank Bank also provides loan EMI facility Guidelines released kpm
Author
New Delhi, First Published Apr 2, 2020, 9:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली: ICICIऔर HDFC बैंक के बाद एक्सिस बैंक ने अपने ग्राहकों को अपने टर्म लोन ग्राहकों को ईएमआई तीन महीने तक टाल देने की सुविधा दे दी है। कर्ज की किस्तें चुकाने में कठिनाई होने की दशा में तीन महीनों के लिए लोन पर  का विकल्प दिया हैं, यानी इस दौरान उनके बैंक खातों से ईएमआई नहीं ली जाएगी। कई अन्य बैंक भी ग्राहकों से इस तरह की पेशकश कर चुके हैं।

एक्सिस बैंक ने ट्वीट किया, 'कोविड-19 नियामक पैकेज पर भारतीय रिजर्व बैंक के दिशानिर्देशों के मद्देनजर हम आपको ईएमआई  तीन महीने तक टाल देने  का विकल्प दे रहे हैं।' 

दुसरे बैंकों ने भी दी सुविधा

बैंक ने कहा है कि ग्राहक एक मार्च 2020 से 31 मई 2020 के बीच विभिन्न टर्म के लोन, क्रेडिट कार्ड के बकाया किस्तों और ब्याज के भुगतान को टाल सकते हैं। इसी तरह की पेशकश प्राइवेट सेक्टर के दुसरे बैंक के एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक भी कर चुके हैं।

ईएमआई टालने कोई रियायत या छूट नहीं 

इसके साथ ही बैंक ने अपने ग्राहकों को साफ किया कि यह केवल तीन महीने के लिए  ईएमआई टालने का विकल्प है और कोई रियायत या छूट नहीं है, क्योंकि इस अवधि के लिए ब्याज देना पड़ेगा। बैंक ने कहा कि इसकी  अवधि खत्म होने के बाद जून 2020 से फिर से EMI का भुगतान फिर से शुरू हो जाएगा।

नहीं भी ले सकते है लाभ

बैंक ने कहा है कि जिन ग्राहकों कई आमदनी पर प्रभावित नहीं हुई है या जो किस्त चुका सकते हैं। अगर वो सुविधा नहीं चाहते हैं वे एक ईमेल भेजकर या बैंक की किसी भी शाखा में जाकर इस बारे में बता सकते हैं। साथ ही बैंक कहा है कि यदि किसी ग्राहक की तरफ से कोई लिखित सूचना नहीं मिलती है तो माना जाएगा कि उसने ईएमआई तीन महीने तक टालने का विकल्प चुना है।

इन बैंकों ने भी दी सुविधा

अब तक सरकारी क्षेत्र के भारतीय स्टेट बैंक, केनरा बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, इंडियन बैंक, यूको बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक और आईडीबीआई बैंक ने लोन की किस्त पर मोराटोरियम यानी तीन महीने तक किश्त न लेने की पेशकश की है। इसी तरह निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक इसका ऐलान कर चुके हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios