नई दिल्ली. पैन कार्ड यानी पर्मानेंट अकाउंट नंबर इनकम टैक्स भरने के अलावा बैंक खातों से जुड़े कामों में बेहद अहम है साथ ही ये आपके फाइनेंशियल लेनदेन के मामले में काम आता है। आपको बता दें कि पैन कार्ड 10 अल्फान्यूमैरिक नंबर होता है और इसे डिपार्टमेंट ऑफ इनकम टैक्स आवंटित करता है। क्या आपने कभी इन अल्फान्यूमैरिक नंबर पर गौर किया है कि इनका मतबत क्या होता है? क्यों इन्हें अल्फान्यूमैरिक फॉम में ही लिखा जाता है।  अगर नहीं किया है तो आज हम आपको बताएंगे इन अल्फान्यूमैरिक नंबर का मतलब।

पैन कार्ड में 10 अल्फान्यूमैरिक अंक होते हैं
आपको बताएंगे कि पैन कार्ड में जो अल्फान्यूमैरिक 10 अंक होते हैं। जिसे IT डिपार्टमेंट, UTI या NSDL के जरिए जारी करता है। ये आपके मोबाइल नंबर की तरह रैंडम नहीं होता बल्कि इसके हर एक अल्फाबेट या न्यूमेरिक के पीछे एक इंफॉर्मेशन होती है। पैन कार्ड 10 अल्फान्यूमैरिक नंबर का संयुक्त कोड होता है जिसमें पहले 5 डिजिट अल्फाबेट होते हैं। इनके पीछे 4 न्यूमेरिक होते हैं और अंत में फिर एक अल्फाबेट होता है।

शुरुआत के 5 कैरेक्टर्स
शुरुआत के 5 कैरेक्टर्स में से पहले तीन कैरेक्टर्स आयकर की अल्फाबेट सीरीज को दर्शाते हैं जो कि AAA से लेकर ZZZ तक के बीच की सीरीज में आते हैं। चौथा कैरेक्टर ये दिखाता है कि आयकर विभाग की नजर में आप क्या हैं। 

हर अक्षर कुछ कहता है
जैसे कि इंडीविजुएल टैक्सपेयर्स के लिए आयकर विभाग चौथे कैरेक्टर के रूप में P का इस्तेमाल करता है। कंपनी के लिए C इस्तेमाल होता है। हिंदू अविभाजित परिवार (HUF)के लिए H का इस्तेमाल होता है। व्यक्तियों का संघ (AOP) के लिए A का इस्तेमाल होता है। बॉडी ऑफ इंडिविजुअल्स (BOI) के लिए B का इस्तेमाल होता है। सरकारी एजेंसी के लिए G का इस्तेमाल होता है। आर्टिफिशियल ज्युडिशियल पर्सन के लिए J का इस्तेमाल होता है। लोकल अथॉरिटी के लिए L का इस्तेमाल होता है। फर्म/लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनिरशिप के लिए F का इस्तेमाल होता है। ट्रस्ट के लिए T का इस्तेमाल होता है।

पांचवा कैरेक्टर नाम का पहला अक्षर
पैन कार्ड का 5वां कैरेक्टर आपके सरनेम के पहले कैरेक्टर को दर्शाता है। जैसे आपका सरनेम राजपूत है तो आपके पैन नंबर का पांचवा कैरेक्टर R होगा। वहीं नॉन-इंडीविजुएल पैन कार्ड होल्डर्स के लिए उनके पैन नंबर में पांचवा कैरेक्टर उनके नाम का पहला अक्षर होगा। अगले चार कैरेक्टर्स हमेशा न्यूमेरिक होते हैं जो पैन कार्ड की सीरीज के सिक्वेंशियल नंबर होते हैं और 0001 से लेकर 9999 तक की संख्या के बीच में होते हैं। आपके पैन नंबर का आखिरी कैरेक्टर हमेशा एक अल्फाबेट होता है।