Asianet News HindiAsianet News Hindi

ICICI ने बढ़ाए क्रेडिट कार्ड के चार्ज, 10 फरवरी से लागू हो जाएंगी नई दरें

10 फरवरी, 2022 से, आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड (ICICI Bank Credit Card)  ग्राहकों को एडवांस कैश पर लेनदेन शुल्क (Transaction Charge on Advance Cash) का भुगतान करना होगा।

 

ICICI hikes credit card charges, new rates will be applicable from February 10 SSA
Author
New Delhi, First Published Jan 10, 2022, 2:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्‍क। आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) ने शनिवार को अपने क्रेडिट कार्ड (Credit Card) ग्राहकों को भेजे एक संदेश में कहा है कि उसने क्रेडिट कार्ड से संबंधित विभिन्न सेवाओं के शुल्क में वृद्धि की है, इसमें विलंब भुगतान शुल्क भी शामिल है। "प्रिय ग्राहक, आपके आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड पर लगने वाले चार्ज 10-फरवरी-22 से प्रभावी माने जाएंगे। MITC के बारे में अधिक जानकारी के लिए, bit.ly/3qPW6wj पर जाएं। आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड पर नवीनतम शुल्क संरचना 10 फरवरी, 2022 से लागू होगी। 10 फरवरी, 2022 से, आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड ग्राहकों को कैश एडवांस पर ट्रांजेक्‍शन चार्ज का भुगतान करना होगा, सभी कार्डों पर उन्नत राशि पर 2.50 फीसदी तक संशोधित किया गया है, जो न्यूनतम 500 रुपए के अधीन है। चेक वापसी के मामले में, बैंक अब न्यूनतम 500 रुपए के साथ कुल देय राशि का 2 फीसदी चार्ज करेगा।

कैश एडवांस क्‍या है?
कैश एडवांस के तहत कैश विड्रॉल के लिए आपके क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने की सुविधा है। व्यापारिक प्रतिष्ठानों में खरीदारी के विपरीत, नकद निकासी पर ब्याज दर मीटर पहले दिन से शुरू होता है। अंतर्राष्ट्रीय यात्रा के दौरान, विदेशी मुद्रा नकद निकासी पर अतिरिक्त लेनदेन शुल्क लग सकता है। यह एक महंगा विकल्प है इसलिए किसी आपात स्थिति को छोड़कर नकद निकासी से बचना सबसे अच्छा है। इसके अलावा, बहुत अधिक छोटी निकासी न करें। इससे उच्च निश्चित शुल्क हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें:- Sovereign Gold Bond scheme 2021-22: सरकार दे रही है सस्‍ता सोना खरीदने का मौका, हर साल होगा 2 फीसदी का फायदा

देर से भुगतान शुल्क वृद्धि
बैंक ने आईसीआईसीआई बैंक एमराल्ड क्रेडिट कार्ड को छोड़कर अपने सभी क्रेडिट कार्डों के लिए देर से भुगतान शुल्क भी संशोधित किया। देर से भुगतान शुल्क कुल देय राशि के साथ भिन्न होता है। ध्यान दें कि यदि आपकी कुल बकाया राशि 100 रुपये से कम है, तो बैंक आपसे कोई शुल्क नहीं लेगा। जबकि, अधिक राशि के लिए देय राशि में वृद्धि के साथ शुल्क बढ़ता रहता है। 50,000 रुपए से अधिक की राशि के लिए बैंक जो अधिकतम राशि वसूल करेगा वह 1200 रुपए है।

यह भी पढ़ें:- पीएनबी अकाउंट होल्‍डर्स के लिए जरूरी खबर, 15 जनवरी से इन सर्विस के लिए चुकाने होंगे ज्‍यादा चार्ज

यदि आप नियत तारीख से पहले भुगतान करने में असमर्थ हैं तो क्या करें?
यदि आप नियत तारीख तक अपने क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान करने में विफल रहे हैं, तो अपने क्रेडिट कार्ड के आगे उपयोग से बचने के लिए सबसे अच्छा है यदि आप अपने ब्याज भुगतान में वृद्धि नहीं करना चाहते हैं क्योंकि आपके पास ब्याज-मुक्त दिन (क्रेडिट-मुक्त) हो गए हैं अवधि)। इसलिए, यदि आपको पुनर्भुगतान मुश्किल लगता है, तो आप पुनर्भुगतान में आसानी के लिए बड़े-टिकट के लेनदेन को ईएमआई (समान मासिक किश्तों) में बदल सकते हैं। विशेषज्ञों का सुझाव है कि यदि आप एक बार में पूरे बकाया का भुगतान करने में सक्षम नहीं हैं, या लेन-देन को ईएमआई में बदलने में भी सक्षम नहीं हैं, तो आप किसी भी लेंडर से पर्सनल लोन भी ले सकते हैं और एक ही बार में पूरे क्रेडिट कार्ड की बकाया राशि का भुगतान कर सकते हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios