Asianet News HindiAsianet News Hindi

मोदी सरकार की योजनाओं से महिलाओं को मिल रहा है लाभ, पहली बार 80% महिलाओं ने लिया होम लोन

स्वामित्व और पीमे (यू) के जरिये महिलाओं को सशक्त किया जा रहा है। पहली बार महिलाओं ने 16% की दर से होम लोन लिया है। इससे समाज में बदलाव की नई बयार बहने लगी है। 

Many women took home loan from Swamitva Yojana Know details MAA
Author
New Delhi, First Published Aug 8, 2022, 11:37 AM IST

बिजनेस डेस्कः स्वामित्व योजना (SVAMITVA yojana), पीमे (यू) (PMAY(U) या यूं कहें प्रधानमंत्री आवास योजना के कारण भारत संपत्तियों के माध्यम से महिलाओं और ईडब्ल्यूएस को सशक्त बनाया जा रहा है। इसके जरिये ग्रामीण इलाकों में नए सामाजिक ताने-बाने की शुरुआत हो रही है। पहली बार 16% महिलाओं ने होम लोन लिया है। कुछ जिलों में तो होम लोन लेनेवाली महिलाओं की संख्या 80% को पार कर गई है। चलिए जानकारी देते हैं कि आखिर ये योजनाएं क्या हैं। 

क्या है स्वामित्व योजना
शहरी क्षेत्रों की तरह गांव के लोगों को सुविधाएं मुहैया कराने के लिए सरकार कई योजनाएं ला चुकी है। ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए सरकार पीएम स्वामित्व योजना चला रही है। इसके तहत गांव के उन लोगों को अपनी जमीन का मालिकाना हक दिया जा रहा है, जिनकी जमीन किसी भी सरकारी आंकड़े में दर्ज नहीं है। दरअसल ग्रामीण इलाकों में कई लोग ऐसे हैं, जिनकी जमीन का सरकारी आंकड़ा मौजूद ही नहीं है। इससे उनकी जमीन पर कब्जा होने का खतरा बना रहता है। इसी के मद्देनजर केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना की शुरुआत की है। केंद्र सरकार ने इस स्कीम को वर्ष 2020 के अप्रैल महीने में शुरू की थी। 

लोगों को मिलेंगे कई फायदे
इस योजना के तहत लोगों को योजना के कई लाभ मिलेंगे। जमीन खुद के नाम होने से लोग उसे आसानी से बेच या खरीद सकेंगे। बैंक से लोन मिलने में भी इससे आसानी होगी। साल 2021 से 2025 तक इस योजना के तहत कई लोगों को जोड़ने का लक्ष्य है। इसके तहत 6.62 लाख गांवों को शामिल करने की प्लानिंग है। 

क्या है PMAY (प्रधानमंत्री आवास योजना)?
केंद्र सरकार की ओर से देश के गरीब व मध्यमवर्गीय लोगों के पास उनका खुद का घर हो, उसके लिए भी योजनाएं चलाई जा रही हैं। मकान का सपना साकार करने के उद्देश्य से पीएम आवास योजना चलाई गई हैं। ग्रामीण व शहरी इलाकों में रहने वाले लोगों को घर खरीदने के लिए मोदी सरकार की ओर से सब्सिडी दी जाती है। इसके तहत सरकार की ओर से पात्र लाभार्थी को 2.67 लाख रुपए की सब्सिडी दी जाती है। 

ऐसे करें आवेदन
यदि आप ग्रामीण इलाके में रहते हैं, तो पीएम आवास योजना के तहत आपको ऑफलाइन आवेदन करना होगा। इसके लिए आप लोक सेवा केंद्र या ग्राम पंचायत में जाकर पीएमएवाई का फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं। इसके बाद इस फॉर्म को भरकर आवश्यक दस्तावेज इसके साथ लगाकर इसे ग्राम पंचायत में जमा कर दें। उसके आवेदन फॉर्म का वेरिफिकेशन किया जाएगा। सब टीक रहा तो आपको मैसेज में जानकारी मिल जाएगी या केंद्र में आपके आवेदन को सेलेक्ट करने का लिस्ट चस्पा दिया जाएगा।  

यह भी पढ़ें- देश में सरकार सीनियर सिटीजन को देती है ये सुविधाएं, आप भी जानें अपना अधिकार

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios