Asianet News Hindi

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय ने कहा, उसके बकाए का भुगतान जल्द करना होगा

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (MSME) ने  बकाया भुगतान को गंभीरता के साथ लेते हुए इसे जल्द से जल्द पूरा किए जाने के लिए कहा है। 

Ministry of Micro, Small and Medium Enterprises said, its dues will have to be paid soon MJA
Author
New Delhi, First Published Sep 14, 2020, 1:40 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (MSME) ने  बकाया भुगतान को गंभीरता के साथ लेते हुए इसे जल्द से जल्द पूरा किए जाने के लिए कहा है। मंत्रालय ने इस मामले में देश के निजी क्षेत्र के उद्यमों को प्राथमिकता के आधार पर MSME के ​​भुगतान के लिए कहा है। मंत्रालय ने देश के शीर्ष 500 कॉरपोरेट समूहों के साथ इस मुद्दे को उठाया है। मंत्रालय ने इन कॉरपोरेट्स के मालिकों, सीएमडी और उच्च अधिकारियों को इसके बारे में ई-लेटर लिखे हैं। 

क्या कहा मंत्रालय ने
मंत्रालय ने कहा है कि एमएसएमई क्षेत्र पर पेशेवरों और श्रमिकों की प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष निर्भरता काफी है। हाल के महीनों में भुगतान करने वालों को धन्यवाद देते हुए मंत्रालय ने कहा है कि अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है। स्थिति से निपटने के लिए, मंत्रालय ने कॉरपोरेट जगत को तीन सुझाव दिए हैं। मंत्रालय ने कहा है कि ये भुगतान एमएसएमई संचालन, नौकरियों और दूसरी आर्थिक गतिविधियों को जारी रखने के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। 

कॉरपेरेट्स को रिटर्न दाखिल करने को कहा
मंत्रालय ने कॉरपोरेट्स को यह भी याद दिलाया है कि MSMEs को उनके बकाये पर कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के साथ अर्ध वार्षिक रिटर्न दाखिल करना अनिवार्य बना दिया गया है। मंत्रालय ने कॉरपोरेट्स से अनुरोध किया है कि अगर वे पहले से ऐसा नहीं कर रहे हैं तो अब रिटर्न दाखिल कर दें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios