Asianet News HindiAsianet News Hindi

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के 1 लाख करोड़ के निवेश को मंजूरी मिली

ओडिशा के पारादीप रिफाइनरी की क्षमता में बढ़ोत्तरी के लिए और नई यूनिट्स की स्थापना के लिए इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन 1 लाख करोड़ रुपए का निवेश करने जा रहा है, जिसकी मंजूरी मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की अध्यक्षता वाली एक उच्च स्तरीय कमेटी ने दी।

odisha to clear iocl's rs 1 lakh crore investment
Author
Bhubaneswar, First Published Aug 19, 2019, 3:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भुवनेश्वर। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन अपने पारादीप रिफाइनरी की क्षमता 15 मिलियन टन वर्ष से बढ़ा कर 25 मिलियन टन प्रति वर्ष करने और  क्रैकर यूनिट के सेटअप के लिए 1,00,300 करोड़ रुपए का निवेश करेगा। 

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय कमेटी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के विस्तार प्रस्ताव को सोमवार को मंजूरी दी। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन अपने पारादीप रिफाइनरी की क्षमता में 10 मिलियन टन प्रति वर्ष की वृद्धि करेगा, वहीं 3-4 मिलियन टन प्रति वर्ष की क्षमता वाला एक डुअल फीड क्रैकर यूनिट भी बनाएगा। कॉरपोरेशन 1.3 मिलियन टन प्रति वर्ष की क्षमता वाला एक पेटकोक गैसिफिकेशन प्लान्ट भी बनाएगा। 

यह निवेश प्रस्ताव सरकार के समक्ष सिंगल विंडो क्लियरेंस सिस्टम के तहत इस वर्ष जुलाई में  ही रखा गया था। इसके अंतर्गत 1.4 मिलियन प्रति वर्ष क्षमता वाला इथेलेन यूनिट, एक 0.65 मिलियन प्रति वर्ष क्षमता वाला प्रोपेलेन यूनिट और संबंधित कई यूनिट्स तैयार किए जाने हैं। पटनायक सरकार को यह उम्मीद है कि पेट्रोकेमिकल सेक्टर और इंडियन ऑयल के पेट्रोकेमिकल कॉम्पलेक्स के विकास में यह निवेश बहुत बड़ी भूमिका निभाएगा। 

इस विस्तार के लिए 4200 एकड़ सरकारी और निजी जमीन की जरूरत होगी। सरकार के स्वामित्व वाली यह कंपनी पहले ही तटीय पारादीप के क्रूड ऑयल रिफाइनरी में 35,000 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है।   
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios