Asianet News HindiAsianet News Hindi

कई महानगरों में आसमान पर प्याज के दाम, इस तारीख के बाद मिल सकती है राहत

विभिन्न जगहों पर प्याज की कीमत 100 रुपये प्रति किलोग्राम को पार कर गई है हालांकि, सरकार की माने तो प्याज आयात किया गया है जिसकी पहली खेप 20 दिसंबर को भारत पहुंचने की संभावना है जिसके पहुंचने के बाद इसकी कीमतों में कमी हो सकती है
 

onion price rises in many indian cities goverment says relief after 20 december kpm
Author
New Delhi, First Published Dec 7, 2019, 4:58 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली: उपभोक्ताओं को प्याज की किल्लत से राहत मिलती नहीं दिख रही है। विभिन्न जगहों पर प्याज की कीमत 100 रुपये प्रति किलोग्राम को पार कर गई है। हालांकि, सरकार की माने तो प्याज आयात किया गया है, जिसकी पहली खेप 20 दिसंबर को भारत पहुंचने की संभावना है जिसके पहुंचने के बाद इसकी कीमतों में कमी हो सकती है। सरकार ने संसद में एक सवाल के जवाब में यह बात कही। खरीफ सीजन वाली प्याज की फसल खराब होने से पैदावार में भारी कमी आई है। इसी कारण प्याज की कीमत आसमान छू रही है। 

केंद्रीय उपभोक्ता मंत्रलय के दैनिक मूल्य निगरानी सेल की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में प्याज का अधिकतम मूल्य 165 रुपये व न्यूनतम 42 रुपये प्रति किलोग्राम दर्ज किया गया है। देश के 100 से अधिक शहरों में प्याज का औसत मूल्य 100 रुपये प्रति किलोग्राम है। 

महानगरों एवं राजधानियों में भाव सबसे ज्यादा

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई, पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता, तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई, असम के प्रमुख शहर गुवाहाटी, त्रिपुरा की राजधानी अगरतला, मणिपुर की राजधानी इंफाल, मेघालय की राजधानी शिलांग, अहमदाबाद, उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ, बिहार की राजधानी पटना, पंचकुला, हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला, उत्तराखंड की राजधानी देहरादून और पंजाब एवं हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ में प्याज 100 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से बिक रहा है।

संसद में भी रोज उठ रहा प्याज की कीमत का मुद्दा

संसद में भी प्याज की कीमत का मुद्दा रोजाना उठाया जा रहा है। खाद्य आपूर्ति राज्यमंत्री दानवे रावसाहेब दादाराव ने उच्च सदन में प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न के जवाब में बताया कि भारत में इस साल बारिश की देर से शुरुआत होने और देर तक बारिश जारी रहने के कारण प्याज की फसल पर व्यापक नकारात्मक असर हुआ। इसकी वजह से देश में इस समय प्याज की कमी के कारण इसकी ऊंची कीमतों का सामना करना पड़ रहा है।

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios