Asianet News HindiAsianet News Hindi

बस एक क्लिक करते ही बैंक अकाउंट हो जाएगा खाली, RBI ने जारी किया अलर्ट

यदि आपने ये BANK से रिलेटेड कोई भी इंर्फेमेशन शेयर की तो आपको आर्थिक नुकसान (Financial Fraud)  झेलना पड़ सकता है।  केवाईसी अपडेट करने के लिए कई सारी फर्जी वेबसाइट और ऐप्‍स (Unauthorized/Unverified Apps) अपना लिंक भेजकर ग्राहकों को निशाना बना रहे हैं।

RBI isseurd alert about online banking fraud, 1 click may empty your account
Author
Bhopal, First Published Sep 14, 2021, 12:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क ।  RBI ने बैंक कस्टमर को अलर्ट किया है । RBI ने ग्राहकों को अलर्ट जारी करते हुए कहा कि केवीईसी अपडेट (KYC Updation) के नाम पर लगातार धोखाधड़ी की जा रही है। बैंक कभी भी आपसे जुड़ी कोई जानकारी फोन पर नहीं मांगते हैं। इसलिए ऐसे फोन कॉल्स पर अपनी निजी जानकारी शेयर ना करें।

RBI ने जारी किया अलर्ट
आरबीआई ने ग्राहकों को सचेत करते हुए कहा कि यदि आपने अपनी पर्सनल जानकारी किसी को दे दी तो हो सकता है कि वह आपके बैंक अकाउंट (Bank Account) से ट्रांजेक्शन करके उसे खाली कर दे। आरबीआई ने बताया कि हाल के दिनों में केवाईसी अपडेट करने  के नाम पर धोखाधड़ी की बड़ी संख्या में शिकायतें आई हैं। इसके लिए हैकर्स पहले ग्राहकों को कॉल्‍स, एसएमएस या ई-मेल के माध्यम से KYC अपडेट करने को कहते हैं. फिर उनकी पर्सनल जानकारी हासिल कर बैंक अकाउंट खाली कर देते हैं।

बस एक क्लिक करते ही बैंक अकाउंट हो जाएगा खाली
आरबीआई ने अलर्ट किया है कि फोन कॉल्स पर एसएमएस पर या अन्य तरीके से कोई आपसे आपके खाता संबंधी जानकारी मांगता है, लॉगइन आईडी, कार्ड डिटेल्‍स, पिन, ओटीपी (PIN/OTP) जैसी निजी जानकारी मांगता है तो आप अलर्ट हो जाएं। यदि आपने ये BANK से रिलेटेड कोई भी इंर्फेमेशन शेयर की तो आपको आर्थिक नुकसान (Financial Fraud)  झेलना पड़ सकता है।  केवाईसी अपडेट करने के लिए कई सारी फर्जी वेबसाइट और ऐप्‍स (Unauthorized/Unverified Apps) अपना लिंक भेजकर ग्राहकों को निशाना बना रहे हैं। ग्राहकों को ऐसे ऐप्‍स इंस्टॉल नहीं करना चाहिए।

धोखाधड़ी से बचने करें ये उपाय  
रिजर्व बैंक ने स्पष्ट किया है कि ऐप्स के जरिए आपकी कोई भी निजी जानकारी नहीं मांगी जाती है। आप यदि को सामान्य अपडेट करना चाहते हैं तो इसके लिए अधिकृत ऐप पर पूरी जानकारी होती है। यहां भी वहीं काम किए जा सकते हैं जिससे आपके अकाउंट की प्रायवेसी बनी रहे। यदि इंटरनेट पर कुछ ऐसे ऐप मिलते हैं जो आपको  प्रलोभन देते हैं, या गैर जरूरी डॉक्युमेंट अपलोड करने के लिए कहते हैं तो सचेत हो जाएं। यदि घर में कोई बड़ा बुजुर्ग ऑनलाइन बैंकिंग सुविधाओं का उपयोग कर रहा है, तो उनके मोबाइल पर अनवांटेड एप्स को डाउनलोड होने से रिस्टिक्ट किया जा सकता है। फर्जी ऐप्‍स के इस्‍तेमाल से आपका बैंक अकाउंट फ्रीज (Freeze), ब्‍लॉक (Block) या बंद (Closure) भी हो सकता है। बता दें कि ग्राहक जैसे ही अपनी पर्सनल  जानकारी किसी गैर अधिकृत व्यक्ति  के साथ शेयर करते हैं, उन्‍हें आपके बैंक अकाउंट का कंप्‍लीट एक्‍सेस (Account Access) मिल जाता है। इससे बचने के लिए आरबीआई की सलाह है कि ग्राहक ऑनलाइन अपडेट करने की बजाए तत्‍काल बैंक या अपनी शाखा (Bank/Branch) से संपर्क करें।

केवाईसी अपडेशन के पहले  जारी किया जाता है सर्कुलर
आरबीआई ने स्पष्ट किया है कि किसी नियामकीय संस्‍था को केवाईसी अपडेट करने के लिए एक साथ बड़े पैमाने पर ये काम किया जाता है। प्रोसेस शुरू करने से पहले सर्कुलर जारी किया जाता है। बीती 10 मई 2021 को ऐसा सर्कुलर जारी किया गया था। वहीं, 5 मई 2021 को एक सर्कुलर जारी किया गया था। केवाईसी अपडेशन की प्रोसेस के दौरान ग्राहकों के बैंक अकाउंट 31 दिसंबर 2021 तक बंद नहीं  किए जाएंगे। केवाईसी अपडेशन के लिए किसी विशेष परिस्थिति में  नियामक, प्रवर्तन एजेंसियां या अदालत आदेश दे सकती हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios