बिजनेस डेस्क। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने राइट्स इश्यू के लिए 14 मई रिकॉर्ड डेट तय कर दी है। कंपनी ने 30 अप्रैल को राइट्स इश्यू की घोषणा की थी। कंपनी ने 53,100 करोड़ रुपए का राइट्स इश्यू पेश किया है। इसे भारतीय उद्योग जगत का अब तक का सबसे बड़ा राइट्स इश्यू बताया जा रहा है। 

मुकेश अंबानी ने की थी घोषणा
रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने घोषणा की थी कि कंपनी 1:15 के अनुपात में राइट्स इश्यू लाने वाली है। कंपनी  3 दशक में पहली बार राइट्स इश्यू लेकर आ रही है। इस तारीख तक जिन निवेशकों के पास आरआईएल के शेयर होंगे, वे कंपनी के राइट्स इश्यू में हिस्सा ले सकेंगे।

20 फीसदी डिस्काउंट पर मिलेंगे शेयर
कंपनी के मुताबिक, रिलांयस के शेयर होल्डर को हर 15 शेयर के बदले एक शेयर अलग से 1,257 रुपए के भाव पर खरीदने का मौका मिलेगा। यह सोमवार के भाव की तुलना में 20 फीसदी डिस्काउंट पर होगा। कंपनी का कहना है कि वह कर्जमुक्त होने के लिए राइट्स इश्यू पेश कर रही है।

मार्च 2021 तक रखा है कर्जमुक्त होने का लक्ष्य
रिलायंस पर मार्च तिमाही के अंत तक 3,36,294 करोड़ रुपए का कुल कर्ज और 1,75,259 करोड़ रुपए की नकदी थी। उसका नेट कर्ज 1,61,035 करोड़ रुपए है। कंपनी ने मार्च, 2021 तक कर्जमुक्त होने का लक्ष्य तय किया है। कंपनी ने नियामक को दी गई जानकारी में बताया कि कंपनी के निदेशक बोर्ड द्वारा बनाई गई राइट्स इश्यू समिति ने 14 मई, 2020 को इश्यू की रिकॉर्ड डेट तय की है। कंपनी ने कहा कि उसने बीएसई और एनएसई से 42,26,26,894 इक्विटी शेयरों को राइट्स इश्यू पेश करने की इजाजत ली है। उल्लेखनीय है कि पिछले महीने रिलायंस इंडस्ट्रीज ने फेसबुक को 43,574 करोड़ रुपए में जियो प्लेटफॉर्म की 9.999 फीसदी हिस्सेदारी बेची थी।