Asianet News Hindi

दो महीने में रिलायंस रिटेल ने जुटाए 47,265 करोड़ रुपए, बेची 10.09 फीसदी हिस्सेदारी

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) ने 10.09 फीसदी हिस्सेदारी बेच कर पिछले दो महीने में 47,265 करोड़ रुपए जुटा लिया है।

Reliance Retail completes fundraise of rs 47265 crore in exchange of 10-09 percent stake MJA
Author
New Delhi, First Published Nov 20, 2020, 8:32 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) ने 10.09 फीसदी हिस्सेदारी बेच कर पिछले दो महीने में 47,265 करोड़ रुपए जुटा लिया है। रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) ने गुरुवार को जानकारी दी कि 2 महीने के भीतर कंपनी ने 10.09 फीसदी हिस्सेदारी बेच कर कुल 47,265 करोड़ रुपए जुटाए। रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) ने एक बयान जारी कर के कहा कि कंपनी को फाइनेंशियल पार्टनर्स से 47,265 करोड़ रुपए हासिल हुए हैं। कंपनी ने इसके बदले 69,27,81,234 इक्विटी शेयरों का आवंटन किया है। 

किन कंपनियों ने किया निवेश
रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) में कई बड़ी वैश्विक कंपनियों ने निवेश कर हिस्सेदारी खरीदी है। सिल्वर लेक पार्टनर्स (Silver Lake Partners) ने कंपनी में 9,375 करोड़ रुपए का निवेश कर 2 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी। केकेआर (KKR) ने 5,550 करोड़ रुपए का निवेश कर 1.19 फीसदी हिस्सेदारी ली। वहीं, जीआईसी (GIC) और अबू धाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी (AIDA ने 5,512.50 करोड़ रुपए का निवेश कर 1.18-1.18 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी। अबू धाबी की इन्वेस्टमेंट कंपनी मुबाडाला (Mubadala) ने 6,247.50 करोड़ रुपए का निवेश कर 1.33 फीसदी हिस्सेदारी ली। सऊदी अरब के पब्लिक इन्वेस्टमेंट फंड (PIF) और सॉवरेन वेल्थ फंड (Sovereign Wealth Fund) ने 2.04 फीसदी हिस्सेदारी के एवज में 9555 करोड़ रुपए का निवेश किया है। वहीं, जनरल अटलांटिक (General Atlantic) ने 0.78 फीसदी हिस्सेदारी के लिए 3675 करोड़ रुपए का निवेश किया है। रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) में टीपीजी (TPG) ने भी 1,837.50 करोड़ रुपए का निवेश कर 0.39 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी है। बता दें कि इनमें से कई कंपनियों ने मुकेश अंबानी के जियो प्लेटफॉर्म्स (Jio Platforms) में भी निवेश किया है। 

रिटेल में अब होगा रिलायंस का दबदबा
मुकेश अंबानी का मकसद रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) को देश के रिटेल क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनी बनाना है। इन वैश्विक कंपनियों के निवेश से रिलायंस रिटेल सबसे मजबूत कंपनी बन कर उभरेगी और भारत के रिटेल मार्केट पर उसका दबदबा कायम हो सकता है। भारत के रिटेल मार्केट पर कई वैश्विक कंपनियों की नजर है। रिलायंस रिटेल ने जियोमार्ट (JioMart) के जरिए ऑनलाइन रिटेल मार्केट में भी दमदार मौजूदगी दर्ज कराई है। इस मौके पर रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) की डायरेक्टर ईशा अंबानी (Isha Ambani) ने कहा कि हम मजबूत और प्रतिष्ठित पार्टनर्स से जुड़ कर सम्मानित महसूस कर रहे हैं।   
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios