Asianet News HindiAsianet News Hindi

चीनी कंपनियों की खैर नहीं, गूगल के साथ मुकेश अंबानी बनाएंगे एंड्रॉइड बेस्ड स्मार्टफोन, AGM में घोषणा

मुंबई में चल रही रिलायंस इंडस्ट्रीज के 43वें एनुअल जनरल मीटिंग में मुकेश अंबानी ने घोषणा की है कि उनकी कंपनी गूगल के साथ मिल कर एंड्रॉइड बेस्ड स्मार्टफोन बनाएगी।

RIL 43rd AGM 2020: Mukesh Ambani says, google and Jio to build Android based smartphones MJA
Author
Mumbai, First Published Jul 15, 2020, 3:55 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। मुंबई में चल रही रिलायंस इंडस्ट्रीज की 43वींं एनुअल जनरल मीटिंग में मुकेश अंबानी ने घोषणा की है कि उनकी कंपनी गूगल के साथ मिल कर एंड्रॉइड बेस्ड स्मार्टफोन बनाएगी। रिलायंस इंडस्ट्रीज एजीएम कोराना महामारी की वजह से वर्चुअल हो रही है। इसमें  500 लोकेशन्स से लोग लाखों शेयरहोल्डर्स शामिल हुए। कई लिहाज से रिलांयस की यह एजीएम बेहद खास है। 

स्मार्टफोन बाजार में चीन की बादशाहत को चुनौती 
मुकेश अंबानी ने घोषणा की कि जियो भारत को 2 जी मुक्त बनाएगी।अंबानी ने कहा कि जियो, गूगल के साथ मिलकर एंडराइड बेस्ड स्मार्टफोन बनाएगी और मकसद भारत के हर हाथ तक स्मार्टफोन पहुंचाना है। उन्होंने कहा, "अब तक हमने 100 मिलियन जियो फोन बेचे हैं। लेकिन अब कई फीचर फोन यूजर स्मार्ट फोन का इंतजार कर रहे हैं। हमें भरोसा है कि हम एंट्री लेवल 4G या 5G स्मार्टफोन डिजाइन कर लेंगे।"

फीचर फोन की कीमत में स्मार्ट फोन 
उन्होंने कहा, "हमें भरोसा है कि हम इसी रेंज (फीचर फोन की कास्ट) में स्मार्टफोन डिजाइन कर सकते हैं। हमें इंजीनियर्ड स्मार्टफोन ऑपरेटिंग सिस्टम की जरूरत है। गूगल और जियो मिलकर भारत में ऐसा ही स्मार्टफोन ऑपरेटिंग सिस्टम बनाएंगे।" भारत के स्मार्टफोन बाजार में फिलहाल चीनी कंपनियों का दबदबा है। 70 प्रतिशत से ज्यादा मार्केट उनका है। लेकिन गूगल संग जियो के आने से चीन की बादशाहत खत्म हो सकती है। 

सुंदर पिचाई ने कहा भारत में आएगी क्रान्ति 
गूगल और अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई ने कहा कि आज भारत में टेक्नोलॉजी के विस्तार की संभावना बहुत ज्यादा है। भारत के लोग बड़े पैमाने पर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रहे हैं। स्मार्टफोन और डाटा की सुलभता ने करोड़ों भारतीयों के लिए ऑनलाइन गतिविधियों को संभव बनाया है। पिचाई ने कहा कि हमें इसका पहले अंदाज नहीं था कि इस क्षेत्र में भारत इतना ज्यादा आगे बढ़ जाएगा। दोनों के साथ आने से तकनीकी के क्षेत्र में क्रान्ति आ जाएगी। 

गूगल का निवेश
रिलायंस इंडस्ट्रीज के इस 43वीं एजीएम में कंपनी के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने यह ऐलान किया कि गूगल जियो प्लेटफॉर्म्स में 33,737 करोड़ रुपए का निवेश कर 7.7 फीसदी हिस्सेदारी लेगी। पिछले 3 महीनों में जियो प्लेटफॉर्म्स में यह 14वां निवेश है। रिलायंस की पहली वर्चुअल एनुअल जनरल मीटिंग में मुकेश अंबानी ने जियो प्लेटफॉर्म्स अपने नए स्ट्रैटजिक पार्टनर्स का स्वागत किया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios