Asianet News HindiAsianet News Hindi

अब इस एक और दिग्गज कंपनी ने खरीदी रिलायंस Jio में हिस्सेदारी, 12वें निवेश से कहां पहुंचे अंबानी?

रिलायंस जियो में सबसे पहले फेसबुक ने 43,574 करोड़ रुपये का निवेश किया। डील से फेसबुक को 9.99 प्रतिशत हिस्सेदारी मिली है। जियो की इक्विटी वैल्यू 4.91 ट्रिलियन रुपये आंकी गई है, जबकि इंटरप्राइज वैल्यू 5.16 ट्रिलियन रुपये है।

RIL gets another invest Rs 1894 crore from Intel Capital for Jio Platforms
Author
Mumbai, First Published Jul 3, 2020, 11:11 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के जियो प्लेटफॉर्म में दुनिया की एक और दिग्गज कंपनी ने निवेश किया है। जियो में 12वें निवेशक के रूप में दिग्गज टेक कंपनी Intel की सहायक फर्म इंटेल कैपिटल ने 0.39 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी है। इस डील के लिए इंटेल कैपिटल ने 1,894.50 करोड़ रुपये का निवेश किया है। 

शुक्रवार को दोनों कंपनियों की ओर से इसकी पुष्टि की। तीन महीने महीने के दौरान ये रिलायंस जियो में 12वां निवेश है। इस निवेश के साथ जियो में अब तक 1,17,588.45 करोड़ रुपये का निवेश हो चुका है। इंटेल कैपिटल से डील पर मुकेश अंबानी ने कहा कि भारत की क्षमताओं को बढ़ाने के लिए साथ काम करने को लेकर उत्साहित हैं। तकनीकी तौर पर हम सक्षम होंगे और अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी। 

जियो में किस-किस ने किया है निवेश 
जियो में सबसे पहले फेसबुक ने 43,574 करोड़ रुपये का निवेश किया। डील से फेसबुक को 9.99 प्रतिशत हिस्सेदारी मिली है। इसके बाद सिल्वर लेक पार्टनर्स, विस्टा इक्विटी, जनरल अटलांटिक, केकेआर, मुबाडला, सिल्वर, टीपीजी, पीआईएफ और अब इंटेल जैसी कंपनियों ने निवेश किया है।

जियो की इंटरप्राइज़ वैल्यू 5.16 ट्रिलियन रुपये 
रिलायंस जियो की इक्विटी वैल्यू 4.91 ट्रिलियन रुपये आंकी गई है, जबकि इंटरप्राइज वैल्यू 5.16 ट्रिलियन रुपये है। रिलायंस जियो ने अपनी स्थापना के कुछ ही साल के अंदर इन्फोसिस, एचडीएफसी और एसबीआई जैसी दिग्गज कंपनियों को पछाड़ दिया है। रिलायंस जियो में निवेश मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज को कर्जमुक्त बनाने की मुहिम का हिस्सा था। अंबानी ने पिछले दिनों घोषणा भी की थी कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड अब कर्जमुक्त कंपनी है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios