Asianet News Hindi

बढ़ी अनिल अंबानी की परेशानी, रिलायंस कम्युनिकेशन के खाते को तीन प्रमुख बैंकों ने घोषित कर दिया फ्रॉड

अनिल धीरूभाई अंबानी ग्रुप (ADAG) के चेयरमैन अनिल अंबानी (Anil Ambani) एक नई परेशानी में फंस गए हैं। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI), यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI) और इंडियन ओवरसीज बैंक (IOB) ने रिलायंस कम्युनिकेशन (Rcom) के अकाउंट को फ्रॉड घोषित कर दिया है। 

SBI Union Bank and Indian Overseas Bank mark Rcom account as fraud MJA
Author
New Delhi, First Published Dec 26, 2020, 2:55 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। अनिल धीरूभाई अंबानी ग्रुप (ADAG) के चेयरमैन अनिल अंबानी (Anil Ambani) एक नई परेशानी में फंस गए हैं। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI), यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI) और इंडियन ओवरसीज बैंक (IOB) ने रिलायंस कम्युनिकेशन (Rcom) के अकाउंट को फ्रॉड घोषित कर दिया है। यह जानकारी इन बैंकों के सूत्रों ने दी है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने रिलायंस टेलिकॉम लिमिटेड (RTL) के बैंक अकाउंट को भी फ्रॉड करार दिया है। 

आरकॉम की सब्सिडियरी का अकाउंट भी फ्रॉड घोषित
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने रिलायंस कम्युनिकेशन (Rcom) की सब्सिडियरी रिलायंस इंफ्राटेल लिमिटेड के बैंक अकाउंट को भी फ्रॉड करार दिया है। बैंकों ने यह कदम ऐसे समय पर उठाया है, जब एक हफ्ता पहले ही नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) की मुंबई बेंच ने रिलायंस इंफ्राटेल के रेजोल्यूशन प्लान को मंजूरी दी है।

रिलायंस डिजिटल के रेजोल्यूशन को मंजूरी
रिलायंस इंफ्राटेल के लिए लैंडर्स ने रिलायंस डिजिटल प्लेटफॉर्म के रेजोल्यूशन प्लान को मंजूरी दी है। रिलायंस डिजिटल प्लेटफॉर्म जियो ग्रुप की कंपनी है। रेजोल्यूशन प्लान के तहत लैंडर्स को रिलायंस डिजिटल से 4000 करोड़ रुपए मिलेंगे। रिलायंस इंफ्राटेल के पास 43000 टावर और 1,72,000 किलोमीटर का फाइबर नेटवर्क है।

आरकॉम के रेजोल्यूशन प्लान को मंजूरी का इंतजार
बता दें कि लैंडर्स ने आरकॉम (Rcom) और रिलायंस टेलिकम्युनिकेशन लिमिटेड (RTL) के रेजोल्यूशन प्लान को मंजूरी दे दी है। अब इन रेजोल्यूशन प्लान को नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) की मंजूरी का इंतजार है। इन दोनों कंपनियों की बिक्री से लैंडर्स को 18000 करोड़ रुपए मिलेंगे। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios