बिजनेस डेस्क. पीएम मोदी (PM Modi) के साथ द्विपक्षीय रिश्तों को लेकर वर्चुअल समिट करने से पहले ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन (UK PM Boris Johnson) ने बड़ी घोषणा की है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सोमवार को भारत में 1 बिलियन पाउंड के नए निवेश की घोषणा की है। वहीं, दूसरी तरफ सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ब्रिटेन की सुविधाओं में निवेश करने के लिए तैयार है और आने वाले समय में वह यहां वैक्सीन का निर्माण भी कर सकता है।

नई नौकरियां की संभावना
मंगलवार को पीएम मोदी और बोरिस जॉनसन के बीच होने वाली वर्चुअल समिट  व्यापारिक रिश्तों की घोषणा की जाएगी। जिसमें भविष्य के लिए फ्री व्यापार समझौता भी होगा। जॉनसन द्वारा घोषित नए द्विपक्षीय व्यापार और निवेश द्वारा यूके में 6,500 से अधिक नई नौकरियों की संभावना है। पैकेज में 533 मिलियन से अधिक के नए भारतीय निवेश शामिल हैं जो कि स्वास्थ्य और प्रौद्योगिकी जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्र हैं। जिसके माध्यम से 6,000 से अधिक नौकरियों मिलने की संभावना है। 

ब्रिटेन के प्रधान मंत्री कार्यालय ने बयान जारी करते हुए कहा कि ब्रिटेन में अपने वैक्सीन के कारोबार के लिए SII द्वारा 240 मिलियन पाउंड का निवेश किए जाने के लिए तैयार है और एक नया सेल्स ऑफिस बनाया जाएगा, जिसमें बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर होंगे।

सीरम इंस्टीट्यूट ब्रिटेन में 240 मिलियन पाउंड निवेश करेगा जिसमें सेल्स ऑफिस, क्लिनिकल ट्रायल, रिसर्च और विकास और वैक्सीन के निर्माण की भी संभावना है। जानकारी के मुताबिक SII ने ब्रिटेन में वैक्सीन के डोज का पहला ट्रायल शुरू भी कर दिया है।
 

क्या होगा वर्चुअल समिट में
वर्चुअल समिट के दौरान एक व्यापक रोडमैप 2030 भी लॉन्च किया जाएगा, जो MEA के अनुसार अगले दस साल में भारत-ब्रिटेन सहयोग को और अधिक बढ़ाने के साथ ही और गहरा करने का मार्ग प्रशस्त करेगा.लोगों के बीच संबंध, व्यापार, समृद्धि, रक्षा, सुरक्षा, जलवायु कार्रवाई और स्वास्थ्य सेवा को और बढ़ाएगा।