करियर डेस्क.  कोरोना वायरस के कारण कई राज्यों में बोर्ड एग्जाम (Board Exam) स्थगित कर दिए गए हैं। ऐसे में कुछ समय के लिए आप रिलैक्स हो सकते हैं लेकिन ऐसा नहीं सोचें की पेपर नहीं होंगे। 12वीं के बाद छात्र सब्जेक्ट का चयन करते समय कई तरह की गलतियां कर देते हैं। ऐसे में 12वीं का रिजल्ट जारी होने से पहले छात्रों को कौन सा सब्जेक्ट लेना है ये पहले से तय कर लेना चाहिए। क्योंकि बहुत से कॉलेज ऐसे होते हैं जहां परसेंट बेस पर एडमिशन मिलते हैं। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कि 12वीं के बाद आप कौन सा सब्जेक्ट लें और कैसे चुनें। 

प्रोफेशनल कोर्स का करें चयन 
12वीं के बाद आप किसी प्रफेशनल कोर्स में भी एडमिशन ले सकते हैं। आईटी और मैनेजमेंट से जुड़े कई कोर्स कर सकते हैं। बैचलर ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट (बीबीए), बैचलर ऑफ कम्प्यूटर ऐप्लिकेशंस (बीसीए), डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट, डिप्लोपा इन होटल मैनेजमेंट ऐंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी। ऐसे कोर्सों की डिमांड देश में तेजी से बढ़ रही है। इसलिए आप इन फील्डों को चयन कर सकते हैं। 

सांइस फील्ड के छात्र 
अगर आप 12वीं में साइंस स्ट्रीम से हैं तो आप बायोटेक्नॉलजी, जेनेटिक्स, इलेक्ट्रॉनिक्स जैसे विषयों में भी ग्रेजुएशन करने का विकल्प है। आप 12वीं के बाद इंजिनियरिंग या मेडिकल कोर्स भी कर सकते हैं।

कॉमर्स में विकल्प
कॉमर्स स्ट्रीम चुनने वालों के लिए भविष्य में एमबीए, सीएस, सीए, फाइनैंशल ऐनालिस्ट जैसे तमाम करियर के दरवाजे खुल जाते हैं। लेकिन इनके लिए आपको एंट्रेस निकालना पड़ेगा। 

नहीं करेंगे ये गलती
अक्सर छात्रों के लिए घर वालों का प्रेशर होता है। आपको 12वीं के बाद क्या सब्जेक्ट लेना है। ये पहले से तय होता है ऐसे में आप अपनी क्षमता के आधार पर ही अपने सब्जेक्ट का चयन करें। 
अपनी रुचि का भी ध्यान रखें। किसी ऐसे फील्ड के बिषय को नहीं चुनें जिसमें स्कोप ज्यादा है लेकिन आपकी इसमें आपकी कोई रुचि नहीं है। 
कई बार छात्र ऐसे सब्जेक्ट का चयन कर लेते हैं जिनके बारे में उन्हें जानकरी नहीं होती है ऐसे में किसी भी सब्जेक्ट का चयन करते समय उस सब्जेक्ट का स्कोप कितना है इसकी जानकारी जरूर लें।