Asianet News HindiAsianet News Hindi

देश का पहला ऐसा संस्थान जो देगा घर बैठे डिग्री, IIT मद्रास ने शुरू किया ऑनलाइन BSc. डिग्री प्रोग्राम

ऑनलाइन बीएससी कोर्स में 12वीं पास कर चुके किसी भी आयु वर्ग के व्यक्ति को दाखिला मिल सकता है। देश के किसी भी हिस्से में रहने वाला व्यक्ति इसमें दाखिला लेकर वहीं से परीक्षा दे सकता है।

iit madras world's first institute start online b sc degree program see details kpt
Author
New Delhi, First Published Jul 1, 2020, 10:43 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. IIT Madras Online BSc Degree Programme: देश में पहली बार बीएससी का डिग्री प्रोग्राम ऑनलाइन उपलब्ध कराया गया है। खास बात यह है कि प्रोग्रामिंग और डाटा साइंस में यह डिग्री प्रोग्राम देश के सबसे प्रतिष्ठित संस्थान आईआईटी मद्रास के द्वारा शुरू किया गया है। ऑनलाइन बीएससी कोर्स में 12वीं पास कर चुके किसी भी आयु वर्ग के व्यक्ति को दाखिला मिल सकता है। देश के किसी भी हिस्से में रहने वाला व्यक्ति इसमें दाखिला लेकर वहीं से परीक्षा दे सकता है।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय की मदद से शुरू किए गए बीएससी, डेटा साइंस एवं प्रोग्रामिंग- कार्यक्रम के तहत तीन स्तरीय पाठ्यक्रम मुहैया कराया गया है। इनमें से एक है फाउंडेशन कोर्स, दूसरा डिप्लोमा और तीसरा डिग्री।

फीस केवल 3000 रुपये

आईआईटी मद्रास के शुरू किए गए ऑनलाइन बीएससी प्रोग्राम की फीस केवल 3000 रुपये निर्धारित की गई है। 12वीं पास कर चुके किसी भी छात्र द्वारा 1 वर्ष की अवधि में डिप्लोमा कोर्स किया जा सकता है 2 वर्ष यह अवधि में फाउंडेशन और 3 में फाउंडेशन और 3 वर्ष की अवधि में वह डिग्री हासिल कर सकता है।

इसे भी पढ़ें-  SSC JHT 2020: एसएससी ट्रांसलेटर 283 पदों पर भर्ती के लिए आवेदन शुरू

 

iit madras world's first institute start online b sc degree program see details kpt

 

नौकरी, पेशेवर लोग भी एडमिशन ले सकते हैं

मानव संसाधन विकास मंत्री ने डिजिटल माध्यम से आईआईटी मद्रास में देश का पहला ऑनलाइन बीएससी पाठ्यक्रम लांच किया। इस कोर्स में बारहवीं पास छात्र जिसने कक्षा 10 में भी अंग्रेजी एवं गणित की पढ़ाई की हो और कोई भी अन्य छात्र जो किसी और स्नातक स्तर के पाठ्यक्रम में नामांकित हो वो प्रवेश ले सकता है। नौकरी, पेशेवर व्यक्ति भी इस पाठ्यक्रम में प्रवेश ले सकते हैं। यह ऑनलाइन पाठ्यक्रम होगा इसलिए उनके काम पर भी इसका असर नहीं पड़ेगा।

देश का नंबर वन तकनीकी संस्थान है IIT मद्रास

केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, “हाल में ही जारी हुई एनआईआरएफ रैंकिंग में आईआईटी मद्रास को देश का नंबर एक तकनीकी संस्थान होने का गौरव प्राप्त हुआ था। आमतौर पर सीटों की सीमित उपलब्धता के कारण आईआईटी में प्रवेश प्राप्त करना बड़ी चुनौती होती है। इस ऑनलाइन पाठ्यक्रम के द्वारा बड़ी संख्या में छात्रों को गुणवत्ता परक पाठ्यक्रम अहम भूमिका निभाएगा।” छात्रों को 4 सप्ताह के 4 विषयों -गाणित, अंग्रेजी, सांख्यिकी और कम्प्यूटेशनल थिंकिंगद्ध के पाठ्यक्रम मिलेंगे।

इसे भी पढ़ें- CA Exam 2020: सुप्रीम कोर्ट ने दिया छात्रों को परीक्षा छोड़ने का ऑप्शन, जानें नए नियम

 

iit madras world's first institute start online b sc degree program see details kpt

 

छात्र ऑनलाइन माध्यम द्वारा पाठ्यक्रम प्राप्त करेंगे, असाइनमेंट जमा करेंगे और चौथे सप्ताह के अंत में एक परीक्षा लिखेंगे। आईआईटी की पारंपरिक प्रवेश प्रक्रियाओं के विपरीत वो सभी छात्र जो -50 प्रतिशत के कुल स्कोर के साथ- क्वालीफायर परीक्षा पास करेंगे इस पाठ्यक्रम में प्रवेश ले सकेंगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios